Home /News /rajasthan /

राजस्थान में जो 'तिवाड़ी' न कर सके, वो इसने कर दिखाया, पढ़ें- क्या है BTP, कौन हैं कर्ताधर्ता?

राजस्थान में जो 'तिवाड़ी' न कर सके, वो इसने कर दिखाया, पढ़ें- क्या है BTP, कौन हैं कर्ताधर्ता?

बीटीपी यानी भारतीय ट्राइबल पार्टी.

बीटीपी यानी भारतीय ट्राइबल पार्टी.

राजस्थान में चार महीने पहले बीजेपी और कांग्रेस दोनों प्रमुख पार्टियों को चौंकाने वाली पार्टी बीटीपी यानी भारतीय ट्राइबल पार्टी अब लोकसभा चुनाव के मैदान में भी चुनौती दे रही है.

राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान बीजेपी और कांग्रेस दोनों प्रमुख पार्टियों को चौंकाने वाली पार्टी बीटीपी यानी भारतीय ट्राइबल पार्टी अब लोकसभा चुनाव के मैदान में भी चुनौती दे रही है. प्रदेश की चार लोकसभा सीटों पर बीटीपी ने दावेदारी पेश की है. कभी बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू से जुड़े छोटू भाई वसावा की इस पार्टी ने विधानसभा चुनाव में दो सीटों पर जीत कर प्रदेश की सियासत में खलबली मचा दी थी. बीजेपी के दिग्गज नेता रहे घनश्याम तिवाड़ी की पार्टी(BVP) जो न कर सकी वो बीटीपी ने कर दिखाया. बीवीपी को एक भी टिकट नहीं जबकि बीटीपी ने दो सीटों पर जीत दर्ज की. अब लोकसभा चुनाव में प्रदेश की चार लोकसभा सीटों पर पार्टी की दावेदारी बीजेपी और कांग्रेस दोनों के समीकरण बिगाड़ सकती है.

ये भी पढ़ें- राजस्थान से इन महिलाओं पर लगा है दांव

बीटीपी को 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव में 2 सीटे मिली थी. राजस्थान विधानसभा तक पहुंच के साथ ही अब पार्टी महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात समेत चार राज्यों के आदिवासी क्षेत्रों में फैल गई है. राजस्थान प्रदेश की बात करे तो यहां अकेले डूंगरपुर की 14 लाख की आबादी में से करीब 73 फीसदी आदिवासी हैं और बीटीपी यहां नतीजों का रुख आसानी से मोड़ सकी है.

ये भी पढ़ें- राजस्थान सरकार ने जारी की नई पॉलिसी, पढ़ें- क्या है वादकरण नीति?

btp
बीटीपी यानी भारतीय ट्राइबल पार्टी.


ये भी पढ़ें- वैभव गहलोत के प्रचार में सक्रिय हुए राजपूत नेता

क्या है बीटीपी? कौन हैं इसके कर्ताधर्ता?
पार्टी- भारतीय ट्राइबल पार्टी
गठन- 2017(गुजरात में)
फाउंडर- छोटू भाई वसावा
राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष- वेलाराम गोगरा
राजनीतिक अस्तित्व- गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 में 2 सीट, राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 में 2 सीट
लोकसभा चुनाव 2019- राजस्थान में चार लोकसभा सीटों पर दावेदारी (उदयपुर, चित्तोडगढ़,बांसवाड़ा और जोधपुर).

ये भी पढ़ें- BJP में शामिल हुए गुर्जर आरक्षण आंदोलन के दिग्गज नेता, पढ़िए कौन हैं कर्नल किरोड़ी बैंसला?



ये भी पढ़ें- केंद्र की सियासत तक पहुंचना चाहती हैं ये राजस्थानी महिलाएं

Tags: Dungarpur news, Lok Sabha 2019, Lok Sabha Election 2019, Lok sabha elections 2019, Rajasthan Lok Sabha Elections 2019, Rajasthan news, Udaipur news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर