• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • बेटी की शादी का कार्ड लेकर रुपए लेने बैंक पहुंचा युवक, पढ़ें- मैनेजर ने क्या दिया जवाब?

बेटी की शादी का कार्ड लेकर रुपए लेने बैंक पहुंचा युवक, पढ़ें- मैनेजर ने क्या दिया जवाब?

बाबू अरविंद चौबीसा. फोटो-(ईटीवी)

बाबू अरविंद चौबीसा. फोटो-(ईटीवी)

नोटबंदी के 13वें दिन सोमवार को बैंकों के खुलने के बाद डूंगरपुर जिले में शादियों के लिए ढाई लाख नगदी दिए जाने की घोषणा निरर्थक साबित हो रही है.

  • Share this:
नोटबंदी के 13वें दिन सोमवार को बैंकों के खुलने के बाद डूंगरपुर जिले में शादियों के लिए ढाई लाख नगदी दिए जाने की घोषणा निरर्थक साबित हो रही है.

बैंकों को इस प्रकार के कोई आदेश प्राप्त नहीं होने पर शादी के कार्ड लेकर पहुंचने वाले लोग बैंकों से निराश होकर लौट रहे हैं. डूंगरपुर जीपीएफ ऑफिस में बाबू अरविंद चौबीसा 8 दिसंबर को होने वाली बेटी की शादी को लेकर अपने खाते से ढाई लाख रूपए निकलवाने सोमवार को शहर की न्यू कॉलोनी स्थित एसबीबीजे बैंक शाखा पहुंचे थे.

शादी का कार्ड, शपथ पत्र और सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ बैंक पहुंचे चौबीसा का बैंक मैनेजर ने ढाई लाख की राशि देने से मना कर दिया. जब चौबीसा ने सरकार के आदेशों का हवाला बैंक मैनेजर को दिया तो उन्होंने कहा कि इस संबंध में उन्होंने टीवी चैनल्स और अखबारों में देखा व पढ़ा जरूर है, लेकिन उन्हें कोई आदेश प्राप्त नहीं हुए है.

वहीं इसके बाद चौबीसा ने जिला प्रशासन को भी दरवाजा खटखटाया, लेकिन वहां पर भी प्रशासन ने राहत देने को लेकर हाथ खड़े कर दिए. चौबीसा का कहना है कि सरकार ने आदेश तो कर दिए, लेकिन कोई राहत नहीं मिल रही है. चौबीसा परेशान है कि बिना रूपयों के अब वे बेटी की शादी की व्यवस्थाएं कैसे करेंगे.

उनका कहना है कि यदि ढाई लाख रूपए मिल जाते तो शादी करवाने में एक बड़ी राहत मिल जाती.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज