होम /न्यूज /राजस्थान /

खाना खाकर सो रहा था शख्स, अचानक आया फोन और रातों रात बना Crorepati, जानें पूरी कहानी

खाना खाकर सो रहा था शख्स, अचानक आया फोन और रातों रात बना Crorepati, जानें पूरी कहानी

Rajasthan News: राजस्थान के रामा मीणा की रातो रात किस्मत पलट गई. उन्होंने दुबई में 20 करोड़ का लॉटरी जीता है.

Rajasthan News: राजस्थान के रामा मीणा की रातो रात किस्मत पलट गई. उन्होंने दुबई में 20 करोड़ का लॉटरी जीता है.

Dungarpur Man won 20 crore lottery in Dubai: राजस्थान (Rajasthan News) के डूंगरपुर (Dungarpur News) जिले के सालमगढ़ निवासी रामा मीणा (Rama Meena Became Crorepati) की किस्मत ने ऐसा पलटा खाया कि वह रातोंरात करोड़पति बन गया. गरीब आदिवासी परिवार से ताल्लुक रखने वाले रामा मीणा ने 30 साल तक मुम्बई में चाय की थड़ी पर काम किया. फिर कुछ साल पहले पैसों का जुगाड़ करके रामा दुबई चला गया. वहां पर उसे रसोइए का काम मिला. पिछले दिनों उसने दुबई में भारतीय मुद्रा के हिसाब से 700 रुपये का लॉटरी टिकिट खरीदा था. किस्मत ने साथ दिया और रामा ने एक करोड़ धीरम (दुबई की मुद्रा) की लॉटरी जीत ली. भारतीय मुद्रा में यह रकम करीब 20 करोड़ रुपये होती है. रामा ने बताया कि जब वो सो रहा था तब उसे कंपनी की ओर से लॉटरी जीतने की जानकारी फ़ोन पर दी गई. खबर सुनकर उसके होश उड़ गए. 47 वर्षीय रामा के परिवार में माता-पिता और पत्नी के साथ 4 बेटियां ओर एक बेटा है. रामा का कहना है कि लॉटरी लगी तो काफी देर तक यकीन ही नहीं हुआ. फिर लॉटरी का रिजल्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. मेरा नाम कंपनी की विनर लिस्ट में फ्लैश हो रहा था. मुझे ऐसा लग रहा था कि मानों ये सब झूठ है लेकिन जब मेरा नाम की घोषणा हुई, तब विश्वास हुआ.

अधिक पढ़ें ...

डूंगरपुर. राजस्थान (Rajasthan News) के डूंगरपुर (Dungarpur News) जिले के एक आदिवासी परिवार का बेटा और पेशे से दुबई में रसोइया रामा मीणा (Rama Meena Became Crorepati) रातो-रात करोड़पति बन गया. दुबई में रामा को 20 करोड़ की लॉटरी लगी है. इधर, रामा की किस्मत चमकने से उसके परिवार और गांव में खुशी का माहौल है. दरअसल, डूंगरपुर जिले के साबला उपखंड में ग्राम पंचायत निठाउवा के सालमगढ़ निवासी गरीब आदिवासी परिवार में जन्मे रामा मीणा ने 30 साल तक मुम्बई में चाय की दुकानों पर काम किया. कुछ साल पहले रामा पैसों का जुगाड़ कर दुबई गया जहां उसे रसोइए का काम मिल गया. इस दौरान पिछले दिनों उसने एक कंपनी का भारतीय मुद्रा के हिसाब से 700 रुपये का लॉटरी टिकिट खरीदा था.

रामा ने बताया कि जब वो सो रहा था तब उसे कंपनी का फ़ोन आया और बताया कि उसे एक करोड़ धीरम (दुबई की मुद्रा) की लॉटरी लगी है जो भारतीय मुद्रा में करीब 20 करोड़ रुपये होती है. खबर सुनकर रामा के होश उड़ गए और उसने यह जानकारी अपने दोस्तों और परिवार को दी. इसके बाद कंपनी द्वारा आयोजित एक समारोह में रामा को एक करोड़ धीरम का चेक सौंपा गया.

रामा बोले- अब सभी कर्ज करेंगे चुकता

रामा ने बताया कि अब वो जल्द डूंगरपुर लौटेगा और सबसे पहले परिवार पर चल रहे बकाया कर्ज को उतारेगा. रामा ने बताया कि  गरीबी के कारण संघर्ष कर रहे उसके परिवार को अच्छा जीवन देने का प्रयास करेगा. 47 वर्षीय रामा के परिवार में माता-पिता और पत्नी के साथ 4 बेटियां ओर एक बेटा है. रामा का कहना है कि लॉटरी लगी तो काफी देर तक यकीन ही नहीं हुआ. फिर लॉटरी का रिजल्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. मेरा नाम कंपनी की विनर लिस्ट में फ्लैश हो रहा था. मुझे ऐसा लग रहा था कि मानों ये सब झूठ है लेकिन जब मेरा नाम की घोषणा हुई, तब विश्वास हुआ.

ये भी पढ़ें:  भांजे का मायरा भरने के लिये 2 बोरों में रुपये भरकर पहुंचे 3 मामा, नोट गिनने में लगे कई घंटे

रामा का कहना है कि गरीबी के चलते 11 साल की उम्र में पढ़ाई छोड़नी पड़ी. फिर मुबई जाकर चाय की दुकानों पर काम किया. तब कभी नहीं लगा कि मेरी किस्मत पलटेगी. मैं रोज लॉटरी में लोगों को करोड़पति बनते देखता था. फिर सोचा क्यों न अपनी किस्मत आजमाऊं. एक बार में पांच-पांच टिकट खरीदता करता था. काफी कोशिश कीं फिर कुछ सालों बाद किस्मत ने मेरा साथ दिया.

Tags: Dungarpur news, How to be a crorepati, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर