झाड़ियों में मिली नवजात की जान बचाने में जुटे डॉक्टर

मां ने नवजात को झाड़ियों में फेंका
मां ने नवजात को झाड़ियों में फेंका

राजस्थान के डूंगरपुर जिले के रामसागड़ा थानाक्षेत्र में मां की ममता को शर्मसार कर देने वाला एक वाकया सामने आया है. रामसागड़ा के सामतलाई के जंगलों में एक कलयुगी मां ने अपनी नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंक दिया.

  • Last Updated: April 9, 2017, 9:30 PM IST
  • Share this:
राजस्थान के डूंगरपुर जिले के रामसागड़ा थानाक्षेत्र में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला एक वाकया सामने आया है. रामसागड़ा के सामतलाई के जंगलों में किसी ने एक नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंक दिया था. जंगल में लकड़ी काटने गई एक महिला को झाड़ियों में बच्चे के रोने की आवाज सुनाई दी . महिला ने तुरंत मामले की जानकारी रामसागड़ा थाना पुलिस को दी.

सूचना मिलते ही रामसागड़ा थाना प्रभारी अजय सिंह मौके पर पहुंचे और नवजात को तुरंत में जिला अस्पताल ले गए. फिलहाल, चिकित्सकों की टीम ने फेसिलिटी बेस्ड न्यू बोर्न केयर (एफबीएनसी) वार्ड में नवजात का इलाज शुरू कर दिया है.

शिशु रोग विशेषज्ञ ​कल्पेश जैन के मुताबिक बच्ची का जन्म 2-3 दिन पहले हुआ है. इसलिए बच्ची का वजन कम होने और रातभर ठंड में रहने की वजह से उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. फिलहाल, पुलिस ने अज्ञात  के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. बच्ची के साथ इस तरह की हैवानियत करने वाले का पता लगाने के लिये इलाके के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं.



बहरहाल, लोगों के सामने बेटी-बचाओ और बेटी पढ़ाओ के नारे चाहे जितनी जोर से लगाए जा रहे हों, लेकिन नवजात बच्चियों के साथ हो रही नाइंसाफी रुकने का नाम नहीं ले रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज