होम /न्यूज /राजस्थान /पीएम डीबीटी योजना के नाम पर खुलवाए खाते फिर आपत्तिजनक साइट के जरिए ठगा, 6 गिरफ्तार

पीएम डीबीटी योजना के नाम पर खुलवाए खाते फिर आपत्तिजनक साइट के जरिए ठगा, 6 गिरफ्तार

मामले में आरोपी लोगों के नाम पर फर्जी सिम लेकर ऑनलाइन ठगी को अंजाम देते थे.

मामले में आरोपी लोगों के नाम पर फर्जी सिम लेकर ऑनलाइन ठगी को अंजाम देते थे.

online fraud. राजस्थान की दोवड़ा थाना पुलिस ने देशभर में अश्लील साइटों और एप्प के जरिए लड़कियां उपलब्ध कराने के नाम पर ...अधिक पढ़ें

डूंगरपुर. डूंगरपुर जिले की दोवड़ा थाना पुलिस ने देशभर में करोड़ों की ठगी करने वाली गैंग का खुलासा किया है. पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इन ठगों ने प्रधानमंत्री डीबीटी योजना के नाम पर लोगों के बैंक खातों का रिकॉर्ड लेकर उन्हें ठग लिया. उन्हीं लोगों के नाम से ही नए सिम इश्यू करवाकर अश्लील साइट से वारदात को अंजाम दिया. देशभर में कितने लोगों से कितनी ठगी हुई इसका बड़ा खुलासा हो सकता है.

एसपी राशि डोगरा डूडी ने बताया कि दोवड़ा थाना इलाके में 10 फरवरी को रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी. अलग-अलग गांवों के 15 लोगों ने रिपोर्ट दर्ज करवाकर बताया कि कुछ लोगों ने प्रधानमंत्री डीबीटी योजना के तहत 2 हजार रुपए दिलाने का कहकर उनसे मुलाकात की. उन्होंने कहा कि योजना के तहत प्रधानमंत्री मोदी की ओर से 2 हजार रुपए खाते में डाले जाएंगे. इसके लिए आधार कार्ड के साथ फिंगर प्रिंट लगाने होंगे. फिंगर प्रिंट के लिए बनकोड़ा पोस्ट ऑफिस बुलाया. ऑनलाइन की दुकान पर ले गए और आधार कार्ड से नए सीम कार्ड ले लिए.

प्रधानमंत्री डीबीटी योजना के नाम पर खोले खाते
नए नंबर को आधार कार्ड से लिंक करके उसे अपने पास ही रख लिया. आरोपियों ने लोगों को ये कहकर वापिस भेज दिया कि आपके खाते में पैसे आ जाएंगे. इस तरह प्रधानमंत्री डीबीटी योजना के नाम पर उनके खाते खोल लिए गए लेकिन इसकी जानकारी उन्हें नहीं दी गयी. फिर धोखाधड़ी को अंजाम दिया गया. जब खाते में पैसे नहीं आए तब फर्जीवाड़े का पता चला. दोवड़ा थाना पुलिस ने छानबीन शुरू कर की और  इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक से सभी खाताधारकों के खातों की ट्रांजेक्शन हिस्ट्री खंगाली. खाताधारकों के नाम, पते लिए.

ये भी पढ़ें- इस पेट्रोल पंप पर कैदी रहेंगे तैनात, घबराएं नहीं इत्मिनान से टैंक फुल करवाएं

पुलिस ने इन आरोपियों की किया गिरफ्तार 
इस जांच के दौरान सरोदा के रहने वाले शंकरलाल, हसमुख, राजेंद्र पाटीदार, सतीश पाटीदार, कांतिलाल, कालूराम के नाम सामने आए. पुलिस ने सभी आरोपियों की तलाश कर गिरफ्तार कर लिया है. आरोपियों से पूछताछ में राजस्थान समेत अलग-अलग राज्यो में अश्लील एप लोकेंटो, ओक्यूलेट और अन्य एप से लड़कियां उपलब्ध करवाने के नाम पर लोगों से करोड़ों की ठगी करवाने की बात कबूल कर ली.  आरोपियों ने केंद्र और राज्य सरकार से फ्लैगशिप योजना के तहत बैंक खातों में आई राशि भी हड़प ली. पुलिस ने बताया मामले में दोवड़ा, सरोदा, आसपुर ओर साबला थाना क्षेत्र के और भी कई लोगो के नाम सामने आ रहे हैं, जिनकी जल्द गिरफ्तारी की जाएगी.

Tags: Crime in Rajasthan, Dungarpur news, Online fraud, Rajasthan news, Rajasthan news in hindi, Rajasthan News Update

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें