आरक्षण मसले पर बोले भगोरा- आरएसएस और भाजपा करती है दोगली राजनीति

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ताराचंद भगोरा. फोटो-(ईटीवी)
कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ताराचंद भगोरा. फोटो-(ईटीवी)

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (जेएलएफ) में आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य के आरक्षण पर दिए गए विवादित बयान पर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ताराचंद भगोरा ने हमला बोला है.

  • Share this:
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (जेएलएफ) में आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य के आरक्षण पर दिए गए विवादित बयान पर कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव ताराचंद भगोरा ने हमला बोला है.

डूंगरपुर में आयोजित प्रेसवार्ता में एआईसीसी सचिव ताराचंद भगोरा ने कहा कि पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत और अब संघ प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य द्वारा आरक्षण को समाप्त किए जाने के बयान ने साबित कर दिया है कि आरएसएस और भाजपा दलित विरोधी पार्टी है.

भगोरा ने कहा संविधान में आरक्षण की व्यवस्था कमजोर तबकों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए की गई है, लेकिन आरएसएस और भाजपा के नेता नहीं चाहते कि देश में कमजोर तबका मुख्यधारा से जुड़कर आगे आए. वे सिर्फ गरीब को गरीब और अमीर को और अमीर बनाना चाहते हैं.



भगोरा ने मनमोहन के बयान की निंदा करते हुए आरएसएस और भाजपा पर दोगली राजनीति करने और देश में सामाजिक समरसता के माहौल को बिगाड़कर वर्ग संघर्ष करवाने का आरोप लगाया.
आपको बता दें कि मनमोहन वैद्य ने जेएलएफ में शुक्रवार को कहा था कि आरक्षण के नाम पर सैकड़ों साल तक लोगों को अलग करके रखा गया. इसे खत्म करने की जिम्मेदारी हमारी है. इन्हें साथ लाने के लिए आरक्षण को खत्म करना होगा. आरक्षण से अलगाववाद को बढ़ावा मिलता है. इस बयान के बाद राजनीतिक पार्टियों ने वैद्य पर जमकर हमला बोला. इसके बाद उन्हें अपने बयान पर सफाई देनी पड़ी.

गौरतलब है कि इससे पहले बिहार चुनाव से ठीक पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत ने भी आरक्षण को खत्म करने को लेकर बयान दिया था. इसके बाद भाजपा को बिहार चुनाव में भारी नुकसान उठाना पड़ा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज