... तो इसलिए अस्पताल में नवजात को छोड़कर भागी थी बिन ब्याही मां

डूंगरपुर जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र से मातृ एवं शिशु अस्पताल के एफबीएनसी वार्ड में नवजात को छोड़कर भागी महिला बिन ब्याही मां निकली. पकड़े जाने पर उसने पूरी बात बताई.

  • Share this:
डूंगरपुर जिले के कोतवाली थानान्तर्गत मातृ एवं शिशु अस्पताल के एफबीएनसी वार्ड में घूंघट की आड़ में नवजात शिशु को छोड़ कर भागी मां को कोतवाली पुलिस ने अहमदाबाद से पकड़ लिया है. पुलिस के अनुसार 29 मई को एक महिला व उसके साथ लोग नवजात शिशु को बीमार होना बताकर मातृ एवं शिशु अस्पताल लेकर आए थे और उसे भर्ती करवाकर फरार हो गए थे. अस्पताल में लिखवाए पते के आधार पर पुलिस ने भंडारिया जाकर पड़ताल की तो पता गलत निकला. पुलिस ने उप नियंत्रक राजेश सरैया की रिपोर्ट पर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया था. पुलिस ने इस मामले की तह तक जाने के लिए जब अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज खंगाले, लेकिन महिला घूंघट की आड़ में गुजरती नजर आई. काफी तलाश के बाद पुलिस ने उस महिला को अहमदाबाद से पकड़ा.

लिव इन रिलेशनशिप में थी
पुलिस पूछताछ में महिला ने बताया कि आसपुर निवासी किसी युवक के साथ लिव इन रिलेशनशिप थी. युवती जिस युवक के साथ लिव इन रिलेशनशिप में थी, वह पिछले दिनों आसपुर पुलिस की ओर से पकड़ी गई बाइक चोरों की गैंग में शामिल है. आरोपी युवक के जेल जाने के बाद युवती उसके कांटेक्ट में नहीं रह पाई. बच्चा होने के बाद बच्चे का पालन पोषण कैसे करें, यह सोचकर अस्पताल के शिशु वार्ड में छोड़ कर चली गई थी.

ये भी पढ़ें-
नवजात बच्ची को गलियों में छोड़ भागी मां, अपनाने वालों की लगी भीड़



सारी रात सोता रहा अस्पताल का स्टाफ़, चंद मिनटों में बच्चा चोरी कर फुर्र हो गई महिला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज