लाइव टीवी

यशवंत सिन्हा ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, बोले- देश को CAA की कोई जरूरत नहीं

Shakir Ali | News18 Rajasthan
Updated: January 21, 2020, 11:44 PM IST
यशवंत सिन्हा ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, बोले- देश को CAA की कोई जरूरत नहीं
कोटा में यशंवत सिन्हा ने सीएए को लेकर दिया बड़ा बयान.

भारत के पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) ने एक बार फिर केन्द्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सीएए (CAA) गैर संवैधानिक और अनावश्‍यक है. वह नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के विरोध में गांधी शांति यात्रा कर रहे हैं.

  • Share this:
कोटा. भारत के पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) ने एक बार फिर केन्द्र की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि सीएए (CAA) गैर संवैधानिक और अनावश्‍यक है. सीएए के खिलाफ देशभर में गांधी शांति यात्रा के जरिए हम देश की जनता को जागरुक कर रहे हैं. कोटा में सिन्हा ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि सीएए को लाने की पीछे केन्द्र सरकार की मंशा है कि बुनियादी मुददों से देशवासियों का ध्यान भटके. साथ ही उन्‍होंने कहा कि मौजूदा केंद्र सरकार कई फ्रंट पर फेल हो रही है.

3000 किलोमीटर लंबी इस यात्रा को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने गेटवे ऑफ इंडिया से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया है. जबकि यह यात्रा महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हरियाणा से होकर 30 जनवरी को दिल्ली के राजघाट पर समाप्त होगी. इस दौरान तीन हजार किलोमीटर का सफर तय किया जाएगा.

कोटा में कही ये बात
सिन्हा कोटा में गांधी शांति यात्रा के तहत पहुंचे और इस दौरान उन्‍होंने गृह मंत्री अमित शाह के सीएए पर यूटर्न नहीं लेने वाले बयान पर कहा कि संसद से ऊपर देश की जनता है और देश की जनता के विरोध पर कई बार सरकारों को झुकना पड़ता है. पूर्व मंत्री ने सीएए में कमियां बताते हुए कहा कि इस कानून के तहत सिर्फ उन लोगों को नागरिकता दी जाएगी जिनका धार्मिक उत्पीड़न हुआ हो. जबकि धार्मिक उत्पीड़न के शिकार लोग ये बात कैसे साबित करेंगे. साथ ही उन्‍होंने सवाल किया कि इस कानून के तहत सिर्फ 3 देशों में धार्मिक उत्पीड़न के शिकार लोगों को नागरिकता देने का ही प्रावधान क्यों रखा गया है? जबकि कई देश ऐसे हैं जहां पर लोगों का धार्मिक उत्पीड़न हो रहा है, उन देशों के लोग कौन से देश में जाकर नागरिकता लेंगे. इसके साथ ही नागरिक संशोधन एक्ट में नागरिकता का अधिकार लेने से कुछ जातियों को वंचित किया गया है जो संविधान के खिलाफ है.

केंद्र सरकार को लेकर कही ये बात
इस दौरान उन्‍होंने वाजपेयी और मोदी सरकार में दिन रात फर्क बताया है. साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने कहा कि केंद्र सरकार को भूमि अधिग्रहण बिल पर भी झुकना पड़ा था और अब वह सीएए पर भी परेशानी में है.
ये भी पढ़ें-सरहद पर शहीद होने की चाहत में अफसर की नौकरी छोड़ देते हैं 'कायमखानी'

 

शरणार्थियों की चौथी पीढ़ी की गुहार, कहा- हमारी भी सुनो सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कोटा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 11:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर