खुशखबरी: देश की चार आईआईटी ने इस साल शुरू की आठ नई ब्रांच, एजुकेशन को मिलेगा बढ़ावा

चार आईआईटी संस्थानों ने देश भर में अपनी आठ ब्रांच खोला है.
चार आईआईटी संस्थानों ने देश भर में अपनी आठ ब्रांच खोला है.

देश के चार बड़े प्रौद्योगिकी संस्थानों (IIT) ने देश भर में आठ नई ब्रांच(New Branch) खोला है. इनमें देश के युवाओं (Youth) को पढ़ने का मौका मिलेगा. इस संस्थानों (Institutions) से भविष्य की बड़ी प्रतिभा निकाल कर सामने आएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 8:48 PM IST
  • Share this:
कोटा. देश के 23 प्रौद्योगिकी संस्थानों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. जेईई-एडवांस्ड का रिजल्ट आने के बाद शुरू हुई काउंसलिंग के साथ ही स्टूडेंट्स ने आईआईटी और इसके द्वारा संचालित ब्रांच में प्रवेश के लिए आवेदन करना शुरू कर दिया है. एलन करियर इंस्टीट्यूट के करियर काउंसलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि इस वर्ष 23 आईआईटी की 16 हजार 53 सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा.

इनमें 1533 सीटेंं सुपर न्यूमरेरी कोटे से फीमेल पूल में आवंटित की जाएगी. साथ ही 4 आईआईटी में आठ नई ब्रांचेंज की शुरूआत की गई है इसमें आईआईटी हैदराबाद में बायो मेडिकल की 20 सीटें, जोधपुर आईआईटी में केमिकल की 42, सिविल एवं इन्फ्रा स्ट्रक्चर इंजीनियरिंग की 42, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस एवं डेटा साइंस की 42 और मैटीरियल इंजीनियरिंग की 42 सीटें शामिल हैं. आईआईटी दिल्ली में इंजीनियरिंग एंड कम्प्यूटेशनल मैकेनिक्स की 40, मैटीरियल इंजीनियरिंग की 40 एवं भिलाई की डेटा एंड आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की 20 सीटें शामिल हैं. वर्तमान एवं आगामी समय की जरूरतों को देखते हुए इन ब्रांचों को शुरू किया गया है.

Rajasthan BSTC Result 2020: राजस्थान प्री डीएलएड बीएसटीसी रिजल्ट घोषित, आजाद पटेल ने किया टॉप



टॉप आईआईटी में इतनी बढ़ीं सीटें
आहूजा ने बताया कि इस वर्ष कुल 2007 सीटें बढ़ी हैं. इनमें आईआईटी मुम्बई की 280, दिल्ली की 148, कानपुर की 35, मद्रास की 135 और खड़गपुर की 246 और रूडकी की 181 एवं गुवाहाटी की 79 सीटें शामिल हैं. इन सभी आईआईटी में जेईई-एडवांस्ड में अच्छी रैंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी अपनी ब्रांच की रूचि के अनुसार प्रवेश लेने के लिए इच्छुक हैं. आहूजा ने बताया कि आईआईटी-एनआईटी में प्रवेश के लिए काउंसलिंग जारी है.

आहूजा ने कहा कि विद्यार्थियों को ब्रांचों के स्कोप एवं स्वयं की रुचि को देखते हुए कॉलेज ब्रांच को प्रेफर करना चाहिए. ताकि वो जोसा काउंसलिंग में किसी भी राउंड में सीट आवंटित होने पर फ्लोट एवं स्लाइड के विकल्प को चुनकर आगे की राउंड की काउंसलिंग में भाग ले सके. आहूजा ने कहा कि देश की चार आईआईटीज ने जो भी आठ ब्रांच खोला है, इनमें पढ़ने के लिए देश के बच्चों को अवसर मिलेगा. ये संस्थान देश को बड़े इंजीनियर देने वाले हैं. यहां से पढ़कर अच्छे लैटेंट देश- विदेश में अपना नाम रोशन करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज