Rajasthan Crisis: सचिन पायलट को अब नहीं भेजी जाएगी सरकारी आदेश की कॉपी, जानें क्या है मामला
Jaipur News in Hindi

Rajasthan Crisis: सचिन पायलट को अब नहीं भेजी जाएगी सरकारी आदेश की कॉपी, जानें क्या है मामला
सचिन पायलट को उप मुख्यमंत्री के पद से हटाए हुए करीब एक सप्ताह का समय हो गया है.

Rajasthan Government Crisis: पद से हटाए जाने के बावजूद निजी सचिव उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) के नाम तबादला आदेश की कॉपी (Order Copy) भेजी जा रही थी. मीडिया में मामला सामने आने के बाद कार्मिक विभाग ने अपनी गलती सही कर ली.

  • Share this:

जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) में चल रहे सियासी संकट के बीच सरकारी बाबुओं का कामकाज का ढर्रा भी भगवान भरोसे ही चल रहा है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने अपनी कैबिनेट के बागी बने तीन मंत्रियों को पद से भले ही हटा दिया हो, लेकिन सरकारी आदेश की प्रति अभी भी उन्हीं भेजी जा रही है. सरकारी आदेश हो या तबादला हो या फिर अन्य आदेश की प्रति, अभी भी निजी सचिव उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के नाम भेजी जा रही है जबकि तीनों मंत्रियों के स्टाफ को एपीओ भी जारी कर दिया गया है. हालांकि, मीडिया में खबर आते ही कार्मिक विभाग ने संशोधित आदेश जारी कर दिए हैं. फौरन कार्रवाई करते हुए निजी सचिव उप मुख्यमंत्री की लाइन को आदेश की प्रतिलिपि (Order Copy) से हटा दिया है.


तबादला सूची से हुआ खुलासा


सचिन पायलट को उप मुख्यमंत्री के पद से हटाए हुए करीब एक सप्ताह का समय हो गया है. राज्य के कार्मिक विभाग ने 23 जुलाई को दो आईएफएस अफसरों की तबादला सूची जारी की है. इन अफसरों की तबादला सूची की प्रतिलिपि निजी सचिव उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को भेजी गई है, जबकि 22 जुलाई को राज्य के कार्मिक विभाग ने तीनों मंत्रियों के स्टाफ को एपीओ जारी करने के आदेश जारी किए थे. इसके बावजूद कार्मिक विभाग ने अपनी गलती सही नहीं की है.








मीडिया में खबर आते ही संशोधित आदेश जारी

मीडिया में खबर आने के बाद कार्मिक विभाग ने अपनी गलती सही कर ली. अब निजी सचिव उप मुख्यमंत्री को किसी भी आदेश की प्रतिलिपि नहीं भेजी जा रही है. कार्मिक विभाग ने तबादला सूची के आदेश में संशोधन भी कर दिया है. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बागी बने तीन मंत्रियों उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, खाद्य मंत्री रमेश मीणा और पर्यटन एवं देवस्थान मंत्री विश्वेंद्र सिंह को पद से हटा दिया था.




अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज