राजस्‍थान में इस मुद्दे साथ आए BJP और कांग्रेस, प्रवासी मजदूरों की समस्‍या पर MLA करेंगे मदद
Jaipur News in Hindi

राजस्‍थान में इस मुद्दे साथ आए BJP और कांग्रेस, प्रवासी मजदूरों की समस्‍या पर MLA करेंगे मदद
कोरोना के संकट से निपटने के लिए मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने सूबे के 100 से अधिक विधायक और सांसदों से बात की है. (फाइल फोटो)

पहली बार वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए पांच संभागों के सांसदों एवं विधायकों से मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने मैराथन चर्चा है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना संकट (Corana Crisis) से निपटने और जमीनी हालात को लेकर हुए मैराथन संवाद में बाहर फंसे प्रवासी मजदूरों (migrant workers) का मुद्दा छाया रहा. इस मैराथन संवाद में, मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) के अलावा सरकार के मंत्री, सभी पार्टियों के विधायक (MLA) और सांसद (Member of parliament) शामिल थे. मुख्‍यमंत्री ने लगातार 12 घंटे तक पांच संभाग के 100 से ज्यादा विधायकों से चर्चा की. चर्चा के दौरान, हर पार्टी के विधायक ने प्रवासी मजदूरों की समस्या का जिक्र किया है.

बाहर फंसे लोगों की सूची कलेक्‍टर को उपलब्‍ध कराएंगे विधायक
मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि संकट की इस घड़ी में फंसे हुए प्रवासियों व श्रमिकों को अपने गृह स्थान पहुंचाने के लिए राज्य सरकार ने जो पहल की थी, उसके तहत करीब 19 लाख 20 हजार लोगों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया है. इसमें से आने वालों की संख्या 12 लाख है. प्रवासी श्रमिकों के दर्द को समझते हुए भारत सरकार की गाइडलाइन और अन्य राज्यों के साथ समन्वय स्थापित कर उन्हें लाने के प्रयास किए जा रहे हैं. उन्होंने विधायकों से कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र के प्रवासी जो भी सूचनाएं भेज रहे हैं, उनसे सरकार को अवगत कराएं. विशेष ट्रेनों के माध्यम से इन्हें लाने के लिए केंद्र एवं संबंधित राज्यों से समन्वय हो गया है.

नेता प्रतिपक्ष ने कहा, यह वक्त राजनीतिक आरोप प्रत्यारोप का नहीं
नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा सभी दलों को एक मंच पर आमंत्रित करने की पहल की सराहना की. कटारिया ने कहा कि संकट की इस घड़ी में सभी को आरोप-प्रत्यारोप से परे होकर एकजुटता दिखनी चाहिए. तभी हम सफलतापूर्वक इसका सामना कर पाएंगे. वहीं, सांसदों और विधायकों की ओर से कृषि मंडियो से खरीद पर किसान कल्याण शुल्क हटाने की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि यह शुल्क किसान पर नहीं आढ़तियों पर लगाया गया है. उन्होंने सभी को आश्वस्त किया कि राज्य सरकार यह भार किसी भी कीमत पर किसान पर नहीं पड़ने देगी.



सीपी जोशी ने कहा, हमें बदलनी होगी अपनी कार्यप्रणाली
विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा, हमें कोरोना के साथ जीना सीखना होगा, हमें अपनी कार्यप्रणाली बदलनी होगी. लोगों में व्याप्त कोरोना के डर को निकालना पड़ेगा, बाहर रह रहे लोग वापस आना चाह रहे हैं, रोज कमाकर खाने वाले लोगों के लिए योजना बनाने की जरूरत है, हमें बारिश का पानी इकट्ठा करने, प्लांटेशन में लोगों को रोजगार दे सकते हैं, शहरी इलाकों में दिहाड़ी मजदूरों के लिए काम करना होगा.  सीपी जोशी ने कहा, नए सिरे से जीवनचर्या तय करनी होगी, हमें लोगों का व्यवहार बदलना होगा.  लोगों का व्यहार बदलने में राजनीतिक दलों की बड़ी भूमिका है, कोरोना से लड़ने में राजनीतिक दल लोगों की मानसिकता बदलने में सहयोग करें, सब दल एकजुट होकर यह काम करें.

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading