लाइव टीवी

पाकिस्तान से विस्थापित 14 लोग बने हिंदुस्तानी, खूब लगाए भारत माता के जयकारे

News18Hindi
Updated: October 15, 2019, 5:30 PM IST
पाकिस्तान से विस्थापित 14 लोग बने हिंदुस्तानी, खूब लगाए भारत माता के जयकारे
हिंदुस्तानी बने विस्थापिताें ने वंदेमातरम और भारत माता के जयकारे लगाए.

जिला कलेक्टर (Jaipur District Collector) जगरूप सिंह यादव ने पाकिस्तान से विस्थापित 14 लोगों (14 Pakistani Hindus) को जयपुर में भारतीय नागरिकता के प्रमाण पत्र प्रदान किए. इसकी खुशी जाहिर करते हुए हिंदुस्तानी बने विस्थापिताें ने वंदेमातरम (Vande Mataram) और भारत माता की जय (Bharat Mata ki Jai) के जयकारे लगाए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 5:30 PM IST
  • Share this:
जयपुर. पाकिस्तान से विस्थापित 14 लोगों (14 Pakistani Hindus) ने जयपुर में भारतीय नागरिकता मिलने की खुशी भारत माता की जय (Bharat Mata ki Jai) और वंदेमातरम (Vande Mataram) के उद्घोष के साथ मनाई. जिला कलेक्टर (Jaipur District Collector) जगरूप सिंह यादव ने इन पाक विस्थापित लोगों को भारतीय गणतंत्र की नागरिकता के प्रमाण पत्र (Indian Citizenship Certificate) प्रदान किए. इनमें से कुछ इस दिन का 20 साल से इंतजार कर रहे थे. आखिर सोमवार को अधिकारिक रूप से भारत का नागरिक बनते ही उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा. भारतीय नागरिकता का प्रमाण पत्र मिलते ही भारत माता की जय और वन्देमातरम के उद्घोष से माहौल गुंजायमान हो गया.
56 लोग थे कतार में, 14 को नागरिकता
जिला कलेक्टर यादव ने बताया कि कुल 56 पाक विस्थापितों को भारतीय नागरिकता दिए जाने की ऑनलाइन प्रक्रिया चल रही थी. इनमें से 14 पाक विस्थापितों को भारतीय नागरिकता प्रदान की गई है. इससे पूर्व भी 108 पाक विस्थापितों को पिछले सालों में भारतीय नागरिकता दी गई थी. उन्होंने बताया कि जयपुर ऑनलाइन प्रक्रिया से पाक विस्थापित को भारतीय नागरिकता के प्रमाण पत्र जारी किए जाने में देशभर में अग्रणी रहा है. प्रदेश में जयपुर के अलावा जोधपुर एवं जैसलमेर के जिला कलक्टर्स को ही सम्पूर्ण जांच उपरान्त पाक विस्थापितों को नागरिकता प्रमाणपत्र जारी करने की अधिकारिता प्रदान की गई है.
42 विस्थापितों की जांच पूरी, जल्द ही शपथ प्रक्रिया

इस कार्य के प्रभारी अतिरिक्त जिला कलक्टर दक्षिण धारा सिंह के अनुसार 42 पाक विस्थापितों की सम्पूर्ण जांच पूरी हो चुकी है एवं शपथ प्रक्रिया शेष है. शपथ प्रक्रिया पूर्ण होने पर इनको भी प्रमाण पत्र जारी किए जा सकेंगे. जिला सूचना विज्ञान अधिकारी विनोद कुमार शर्मा ने बताया कि पाक विस्थापितों को नागरिकता प्रदान करने का कार्य पूर्व में केवल ऑफलाइन होता था लेकिन अब आवेदन प्राप्त होने से लेकर सुरक्षा जांच को भेजे जाने एवं सुरक्षा जांच पश्चात प्रमाणपत्र जारी होने तक की सम्पूर्ण प्रक्रिया ऑनलाइन सम्पन्न की जा रही है.

90 वर्ष से अधिक उम्र के संतों भी अब हिंदुस्तानी

pakistani hindus, indian citizenship
90 वर्ष से अधिक आयु के संतों और 85 वर्ष की मरियम को भी भारतीय नागरिकता प्रदान की गई.

Loading...

जयपुर में नागरिकता लेने वालों में 90 वर्ष से अधिक के संतों और 85 वर्ष की मरियम भी शामिल थे. इन्हें मिलाकर कुल 14 पाक विस्थापितों को भारतीय नागरिकता प्रदान की गई. इनमें मोट्योमल, सपन बाई, किशन लाल, कलावंती, मुकेश कुमार, मोर ओड, दिलीप कुमार, संतरी बाई, लक्ष्मीकांत, किरण शर्मा, चन्द्रन बाई और लाजाजी शामिल हैं.
ये भी पढ़ें- 
अलवर में 3 युवकों के हाथ-पैर तोड़े, जिंदा जलाने की कोशिश
भरतपुर के शरीफ को कश्मीर में आतंकवादियों ने गोली मारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 5:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...