• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • JAIPUR 19 CENTRES IN 7 DISTRICTS ESTABLISHED FOR CORONA VACCINE DRY RUN IN JAIPUR MPNS

Jaipur: प्रदेश में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन आज, 7 जिलों में बनाए 19 सेंटर

पूरे राजस्थान में होगा कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन. (प्रतिकात्मक फोटो)

एक व्यक्ति को COVID-19 वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया 35 मिनट में होगी पूरी. प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक, ड्राई रन के जरिए कमियों और खामियों को तलाशने पर फोकस होगा.

  • Share this:
    जयपुर. राजस्थान में शनिवार को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) का ड्राई रन होगा. इसके लिए प्रदेश के 7 जिलों में 19 सेंटर्स स्थापित किए गए हैं. जयपुर में 4, भीलवाड़ा में 2, करौली में 2, अजमेर में 2, बांसवाड़ा में 4, जोधपुर में 2 और बीकानेर में 3 सेंटर्स पर ड्राई रन होगा. जयपुर से सभी जिला स्तर पर कोरोना वैक्सीन के वाइल रखने के लिए फ्रीजर सेंटर बनाए जा चुके हैं.

    स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के ड्राई रन के लिए सभी सेंटर्स पर वेटिंग रूम, वैक्सीन रूम और ऑब्जर्वेशन रूम की व्यवस्था की है. इसके लिए हर सेंटर पर 25-25 हेल्थ वर्कर को बुलाया गया है. जानकारी के मुताबिक, एक व्यक्ति पर वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया 35 मिनट में होगी पूरी. प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक, ड्राई रन के जरिए कमियों और खामियों को तलाशने पर फोकस होगा. हर सेंटर के लिए संस्थान प्रभारी, जिलास्तरीय अधिकारी, सुपरवाइजर, वैक्सीनेशन अधिकारी, वैक्सीनेटर, मोबलाईजर तैनात होंगे. जिला अधिकारी निरीक्षण के बाद रिपोर्ट शासक को भेजेंगे.

    कुछ इस तरह की है व्यवस्था
    हर शहर, जिला मुख्यालय पर वैक्सीन लगाई जाएगी. मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, सेटेलाइट अस्पतालों में वैक्सीनेशन का काम होगा. वैक्सीन लगाने का काम तीन कक्षों में होगा. पहले कक्ष में वेटिंग एरिया, दूसरे में वेक्सीनेशन और तीसरे में वैक्सीन के बाद लोगों को रखा जाएगा, ताकि उनमें साइड इफेक्ट का तुरंत पता चल सके. इसके लिए पूरी मेडिकल टीम का गठन भी किया गया है. मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, सेटेलाइट अस्पतालों के जिन हैल्थ वॉरियर्स को उन्हीं अस्पतालों में टीका लगाया जाएगा.

    सरकार की शुरुआती प्लानिंग
    बड़े निजी अस्पतालों के स्टाफ को वैक्सीन लगाने का काम वहीं बनाए गए सेंटर पर होगा. इसके अलावा जो छोटे निजी अस्पताल या नर्सिंग होम्स हैं, उनके स्टाफ को निजी अस्पताल या गर्वमेंट अस्पताल में बनाए गए सेंटर पर बुलाकर वैक्सीन लगाई जा सकेगी. प्रारंभिक चरण में सरकार की यही प्लानिंग है. भारत सरकार ने तय किया है कि पहले चरण में राजस्थान के 5 लाख हैल्थ वॉरियर्स को वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके बाद 50 साल से अधिक वाले लोगों को यह लगाई जाएगी.