अपना शहर चुनें

States

राजस्थान: पहले दिन 12258 हेल्थ वर्कर्स को लगा टीका, अलवर और जोधपुर में टारगेट के ज्यादा वैक्सीनेशन

राजस्थान में कोरोना वैक्सीन का पहला दिन. (File)(फाइल फोटो)
राजस्थान में कोरोना वैक्सीन का पहला दिन. (File)(फाइल फोटो)

Corona Vaccination: राजस्थान मे पहले दिन 16,613 लोगों को वैक्सीन (COVID-19 Vccine) लगाई जानी थी. सबसे ज्यादा जयपुर में 1303 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगा . सबसे कम जैसलमेर में 108 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगा.

  • Share this:
सौरभ गृहस्ती

जयपुर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ 16 जनवरी से देशव्यापी टीकाकरण अभियान (Vaccination Programme) की शुरुआत हो गई. राजस्थान में भी राजस्थान के पहले दिन काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला. राजधानी जयपुर में पहले दिन प्रदेश में 12258 हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीन लगा. जानकारी के मुताबिक, पहले दिन 16,613 लोगों को वैक्सीन लगाई जानी थी. सबसे ज्यादा जयपुर में 1303 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगा . सबसे कम जैसलमेर में 108 स्वास्थ्य कर्मियों को टीका लगा.

इन सबके बीच वैक्सीनेशन के आंकड़ों में कुछ गड़बड़ भी हुई. अलवर और जोधपुर में टारगेट के ज्यादा वैक्सीनेशन हुआ. अलवर में टारगेट से 85 ज्यादा लाभार्थियों को टीका लगाया गया. जोधपुर में टारगेट से आठ ज़्यादा लाभार्थियों का वैक्सीनेशन किया गया. स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों से ये जानकारी मिली है.



167 केंद्रों पर हुआ टीकाकरण
राजस्थान में शनिवार को 167 केंद्रों पर टीकाकरण की शुरुआत की गई. अजमेर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ. वीबी सिंह को पहला टीका लगाया गया. टीकाकरण शुरू होने पर खुशी जताते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने कहा, 'सभी को इस दिन का बेसब्री से इंतजार था. आखिरकर, टीका आ गया. टीकाकरण 167 बूथों पर हो रहा है, प्रदेश के हर व्यक्ति को टीका लगाने में एक से डेढ़ साल का समय लगेगा. तब तक, हमें COVID 19 से संबंधित प्रोटोकॉल का पालन करना जारी रखना होगा.' जयपुर में 21 सेंटर्स सहित प्रदेश के सभी शहरों इसके साथ ही अब हेल्थ वॉरियर्स को टीका लगाने का सिलसिला शुरू हो चुका है. वे बेहद उत्साह में दिखाई दे रहे हैं. कारण, उन्हें पूरी दुनिया के सबसे बड़े टीका अभियान में सबसे पहले चुना गया है. जयपुर के सबसे बड़े अस्पताल एसएमएस में अभी प्रक्रिया चल रही है.

ये भी पढ़ें: विकास दुबे की बायोपिक और किताब पर पत्नी ऋचा को एतराज, लीगल नोटिस के बाद अब कोर्ट जाने की तैयारी

राजस्थान में कई जगह वैक्सीन लगने के बाद जयपुर के एसएमएस अस्पताल में पौने 2 घंटे बाद वैक्सीनेशन शुरू हुई. यहां चार व्यक्तियों को एक साथ टीका लगाया जाना था, लेकिन एसएमएस प्रिंसिपल सुधीर भंडारी को टीका लगाने के बाद सभी मुख्यमंत्री की वीसी में जुड़ गए. हालांकि कुल 4 मिनट में पहले टीके की प्रोसेस पूरी हो गई है. एसएमएस अस्पताल में 12.40 पर वैक्सीनेशन का प्रोसेस शुरू हुआ. जो 12.44 पर पूरा हुआ. जिसके बाद सभी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की वीसी से जुड़ गए. जिसके कारण हेल्थ वॉरियर्स वैक्सीनेशन के इंतजार में बैठे रहे. जयपुर के 21 सेंटरों पर हेल्थ वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज