Home /News /rajasthan /

Gold Reserve In Rajasthan: बिहार के बाद राजस्थान में सबसे बड़ा स्वर्ण भंडार, इन जिलों में है 'खजाना'

Gold Reserve In Rajasthan: बिहार के बाद राजस्थान में सबसे बड़ा स्वर्ण भंडार, इन जिलों में है 'खजाना'

Rajasthan me sone ka bhandar: बिहार के बाद राजस्थान में मिला सोने का बड़ा भंडार.

Rajasthan me sone ka bhandar: बिहार के बाद राजस्थान में मिला सोने का बड़ा भंडार.

Rajasthan News: बिहार (Bihar Jumai Gold Reserve) के बाद राजस्थान में बड़ा स्वर्ण भंडार है. केंद्रीय खनन मंत्री प्रह्लाद जोशी ने ससंद में हाल ही बताया था कि राजस्थान में 25 फीसदी सोने का भंडार है. अलवर के मुंडियावास खेड़ा में जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) को कॉपर के साथ सोना और चांदी के भंडार मिलने की खबर भी कुछ समय पहले आई थी.

अधिक पढ़ें ...

    जयपुर. बिहार (Bihar) के नक्सल प्रभावित जिले जमुई में देश का सबसे बड़ा स्‍वर्ण भंडार (Gold Reserves in India) मिला है. यह जानकारी केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने संसद में लोकसभा सदस्य और बिहार भाजपा के अध्‍यक्ष संजय जायसवाल के एक सवाल के जवाब में दी. भूवैज्ञानिकों का अनुमान है कि बिहार में सोने का भंडार कुल 44 फीसदी है, जो कि भारत में सर्वाधिक है. दूसरी महत्वपूर्ण बात यह है कि सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार के बाद राजस्थान का नंबर स्वर्ण भंडार के मामले में हैं. राजस्थान में 25 फीसदी स्वर्ण भंडार है. केंद्रीय खनन मंत्री प्रह्लाद जोशी ने ससंद में बताया कि राजस्थान में 25 फीसदी सोने का भंडार है. इसमें कई कीमती पत्थर भी शामिल हैं. देश में कुल 501.83 टन का प्राथमिक स्‍वर्ण अयस्‍क भंडार है, जिसमें 654.74 टन स्‍वर्ण धातु है, इसमें 44 फीसद सोना बिहार में है जबकि 25 फीसदी राजस्थान में है.

    हालांकि, राजस्थान में स्वर्ण भंडार की खबरें पहले से आती रही हैं. अलवर के मुंडियावास खेड़ा में जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (जीएसआई) को कॉपर के साथ सोना और चांदी के भंडार मिलने की खबर भी कुछ समय पहले आई थी. मुंडियावास थानागाजी पुलिस थाना इलाके में आता है. सरिस्का बाघ परियोजना से 6 किलोमीटर और जिला मुख्यालय अलवर से करीब 50 किलोमीटर दूर है. मुंडियावास के भूगर्भ में सोना, चांदी और तांबा समेत कई तरह के खनिजों का भंडार है.

    जीएसआई ने दी अहम जानकारी

    जीएसआई का कहना था कि एक टन गोल्ड ओर में 0.69 ग्राम शुद्ध सोना इस क्षेत्र की खदानों से मिलेगा. जीएसआई ने आंकलन में यह भी था कि यहां सिल्वर ओर की मात्रा 2.33 मिलियन टन है,जबकि शुद्ध चांदी एक टन सिल्वर ओर से 7.28 ग्राम मिल जाएगी. हालांकि जीएसआई के मुताबिक कॉपर की मात्रा इस पूरे क्षेत्र में ज्यादा है.

    बांसवाड़ा जिले के गहतोल क्षेत्र में सोने के भंडार

    बांसवाड़ा जिले के गहतोल क्षेत्र में सोने के भंडार होने की बात एक सर्वे रिपोर्ट में 2018 में सामने आई थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि यह भंडार जमीन के स्‍तर से 300 मीटर नीचे है. सर्वे रिपोर्ट में करीब 200 टन सोने का भंडार होने की बात कही गई थी. रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि बांसवाडा और उदयपुर जिले में 11.48 करोड़ टन के सोने के भंडार का पता लगाया जा चुका है.

    ये भी पढ़ें: Seema Jakhar Bribe Case: 10 लाख डील मामले में सिरोही से फरार तस्कर गिरफ्तार, अब होंगे बड़े खुलासे

    जस्ता और तांबे का भंडार

    राजस्थान की जमीन में खनिज संपदा के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है. राजस्थान में सीसा, जस्ता के भंडार भीलवाड़ा जिले के सलामपुरा एवं इसके आस-पास के इलाके में मिले चुके हैं. राजस्थान में साल 2010 से अब तक 8.11 करोड़ टन ताम्बे के भंडार का पता लगाया जा चुका है. इसके अलावा, राजस्थान के सिरोही जिले के देवा का बेड़ा, सालियों का बेड़ा और बाड़मेर जिले के सिवाना इलाकों में अन्य खनिज की खोज की जा रही है.

    Tags: Gold, Jaipur news, Rajasthan news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर