Jaipur: बाहुबली की मौत के 3 माह बाद देवसेना फिर मां बनने की राह पर, ‌दिए 17 अंडे
Jaipur News in Hindi

Jaipur: बाहुबली की मौत के 3 माह बाद देवसेना फिर मां बनने की राह पर, ‌दिए 17 अंडे
मादा शुतुरमुर्ग बाहुबली की मौत के 3 माह बाद देवसेना द्वारा अंडे दिये जाने से जू प्रशासन असमंजस में है.

जयपुर जू (Jaipur Zoo) में इन दिनों मादा शुतुरमुर्ग देवसेना (Ostrich Devasena) द्वारा दिये गये करीब सवा-सवा किलो के 17 अंडों (Eggs) ने सस्पेंस पैदा कर रखा है. जू प्रशासन समझ नहीं पा रहा है आखिर ऐसा कैसे हुआ ?

  • Share this:
जयपुर. राजधानी जयपुर के चिड़ियाघर (Jaipur Zoo) में इन दिनों मादा शुतुरमुर्ग देवसेना-2 के अंडे हैरत का विषय बने हुए हैं. जू में नर शुतुरमुर्ग बाहुबली (Ostrich Bahubali) की मौत हुये करीब तीन महीने हो गए हैं. उसके बाद अब मादा शुतुरमुर्ग देवसेना (Devasena) ने कोई एक दो नहीं बल्कि 17 अंडे (Eggs) दिए हैं. सवा-सवा किलो के सभी अंडे क्या खबर लेकर आते हैं इसका सभी को इंतजार है.

आखिर ये हुआ कैसे ?
जयपुर जू में बाहुबली के रहते शुतुरमुर्ग का कुनबा आगे बढ़ने का ख्वाब तो पूरा न नहीं हो पाया, लेकिन अब उसके जाने के तीन महीने बाद केवल दो मादा शुतुरमुर्ग की मौजूदगी में 17 अंडे होने से स्टाफ हैरत में है कि आखिर ये हुआ कैसे ? जू के चिकित्सकों का मानना है कि कुछ कैसेज में ऐसा भी देखा गया है कि नर से मिलन के कुछ वक्त बाद ही मादा ने अंडे दिए हैं. हालांकि जू में पहले अन्य मादा शुतुरमुर्ग अवंतिका ने अंडे दिए थे. इससे यह भी संभव है कि अवंतिका के अंडे देने के बाद मादा शुतुरमुर्ग देवसेना अब सही वक्त देखकर अंडे दिए हो.

Rajasthan: रेतीले धोरों में वैभव, विरासत, कला और संस्कृति का अनूठा संगम है 'गोल्डन सिटी' जैसलमेर
मादा शुतुरमुर्ग अनफर्टिलाइज एग्स भी देती हैं


असमंजस के इन हालात में फिलहाल जू प्रशासन ने मादा शुतुरमुर्ग देवसेना-2 की विशेष निगरानी शुरू कर दी है. जू के पशु चिकित्सक अशोक सिंह तंवर कहना है कि मादा शुतुरमुर्ग अनफर्टिलाइज एग्स भी देती हैं. लेकिन उन अंडों को वो सेती नहीं है. लेकिन देवसेना-2 अंडों को सेह भी रही है और रेगुलर उन्हें बॉडी हीट भी दे रही है. शुतुरमुर्ग के अंडे वैसे अपने आप में काफी दिलचस्प चीज होते हैं. लेकिन जयपुर जू में शुतुरमुर्ग द्वारा दिये इन गये इन अंडों ने सस्पेंस को बढ़ा दिया है.

Rajasthan: 'आइडियल ट्यूरिस्ट डेस्टिनेशन' वर्ल्ड हेरिटेज सिटी जयपुर, यहां महलों और किलों में जीवित है गौरवशाली अतीत

शुतुरमुर्ग के अंडे धरती के सबसे बड़े होते हैं
उल्लेखनीय है कि जिस तरह से शुतुरमुर्ग धरती का सबसे बड़ा पक्षी होता है उसी तरह से इसके अंडे भी धरती के सबसे बड़े होते हैं. अफ्रीका महाद्वीप के घने घास के मैदानों में शेर जैसे जानवरों पर भी दबदबा रखने वाले शुतुरर्मुर्गों को जयपुर का माहौल रास आया हुआ है. जयपुर में पहले बाहुबली और देवसेना का जोड़ा लाया गया था. लेकिन कुछ समय बाद देवसेना की मौत हो गई थी. उसके करीब डेढ़ साल बाद नर शुतुरमुर्ग बाहुबली के लिये चेन्नई से दो मादा शुतुरमुर्ग लाई गई थी. इनमें एक का अवंतिका और दूसरी का नाम देवसेना-2 रखा गया. इनमें बाहुबली और अवंतिका की जोड़ी की केमिस्ट्री अच्छी रही और दोनों ने कमाल कर दिया था. राजस्थान के इतिहास ऐसा पहली बार हुआ था गत जून माह में मादा शुतुरमुर्ग अवंतिका ने 8 अंडे दिए थे. उसके बाद अब देवसेना-2 ने अंडे दिये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading