गंदी मानसिकता का व्यक्ति है रेपिस्ट जीवाणु, कोर्ट में 400 पेज की चार्जशीट दाखिल

जयपुर के शास्त्रीनगर में सात साल की मासूम से रेप करने के आरोपी सिकंदर उर्फ जीवाणु के खिलाफ 18 दिन बाद पुलिस ने कोर्ट में चालान पेश कर दिया है. करीब 400 पेज की इस चार्जशीट में पुलिस ने माना है की जीवाणु गंदी मानसिकता का व्यक्ति है.

News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 9:01 AM IST
गंदी मानसिकता का व्यक्ति है रेपिस्ट जीवाणु, कोर्ट में 400 पेज की चार्जशीट दाखिल
रेपिस्ट सिकंदर उर्फ जीवाणु। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 9:01 AM IST
जयपुर के शास्त्रीनगर में सात साल की मासूम से रेप करने के आरोपी सिकंदर उर्फ जीवाणु के खिलाफ 18 दिन बाद पुलिस ने कोर्ट में चालान पेश कर दिया है।. करीब 400 पेज की इस चार्जशीट में पुलिस ने माना है की जीवाणु गंदी मानसिकता का व्यक्ति है. उसका समाज में रहना उचित नहीं है.

इन धाराओं में दाखिल की है चार्जशीट
पुलिस ने जीवाणु के खिलाफ आईपीसी की धारा 323,341,363,376,376 ऐबी और पॉक्सो एक्ट के तहत चालान पेश किया है. जीवाणु को गत 6 जुलाई को कोटा से पकड़ा गया था. जीवाणु ने शास्त्री नगर की सात साल की मासूम के साथ रेप करने से एक सप्ताह पहले भी इसी इलाके में चार वर्षीय मासूम को अपना शिकार बनाया था.

25 मासूमों समेत 40 से ज्यादा पुरुषों और किन्नरों से यौनाचार कर चुका है

जयपुर पुलिस ने जब आरोपी सिकंदर से पूछताछ की तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ था. आरोपी सिकंदर उर्फ जीवाणु ने पुलिस सामने 25 मासूमों से दरिंदगी की बात कबूली थी. पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव के अनुसार 34 साल का सिकंदर अब तक 25 बच्चों के अलावा 40 से ज्यादा पुरुषों और किन्नरों से यौनाचार कर चुका है.

जयपुर में रहा था तनाव का माहौल
शास्त्री नगर दुष्कर्म मामले को लेकर जयपुर में लगातार 5 दिन तक तनाव का माहौल बना रहा था. शास्त्री नगर और इससे जुड़े इलाकों में इंटरनेट तक पर पाबंदी लगा दी गई थी. बच्ची से रेप की घिनौनी वारदात को अंजाम देकर सिकंदर कोटा भाग गया था. जयपुर पुलिस ने वहीं से पकड़ा था. सिकंदर के कमरे से टॉयनुमा दो पिस्टलें भी बरामद की गईं थी, जिनके दम पर वह अपने शिकार को डराता और उनके साथ दरिंदगी करता था.
Loading...

'सेक्सुअल प्रिडेटर है जयपुर में पकड़ा गया सीरियल रेपिस्ट'

जयपुर के सिकंदर का कबूलनामा, 25 बच्चों से कर चुका है दरिंदगी
First published: July 25, 2019, 9:00 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...