राजस्थान: कोरोनाकाल में मेडिकल स्टाफ की कमी होते ही 7353 CHO पदों पर भर्ती, जारी हुई सूची

कोरोनाकाल में राजस्थान सरकार ने की 7353 सीएचओ की भर्ती,

कोरोनाकाल में राजस्थान सरकार ने की 7353 सीएचओ की भर्ती,

राजस्थान में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशालय ने संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची जारी की. चिकित्सा मंत्री ने कहा कि कोविड महामारी को देखते हुए 7 हजार 353 चयनित सीएचओ को ग्रामीण क्षेत्रों में नियोजित किया जाएगा.

  • Share this:

जयपुर. कोरोना के कहर के बीच मेडिकल स्टाफ की कमी लगातार सामने देखने को मिल रही है. ऐसे में राजस्थान में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशालय द्वारा संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची राज्य के चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने जारी की. चिकित्सा मंत्री ने बताया कि वर्तमान में कोविड महामारी का प्रकोप ग्रामीण क्षेत्रों में भी फैल रहा है. ऐसे में 7 हजार 353 चयनित सीएचओ को ग्रामीण क्षेत्रों में नियोजित किया जाएगा.

डॉ. शर्मा ने कहा कि संविदा सीएचओ भर्ती-2020 के लिए 7810 पदों की विज्ञप्ति जारी की गई थी. स्क्रीनिंग परीक्षा के बाद दस्तावेज सत्यापन के आधार पर 7353 पदों की चयन सूची जारी की जा रही है. उन्होंने कहा कि 457 शेष पदों पर दस्तावेज सत्यापन प्रक्रियाधीन होने के कारण इनका परिणाम बाद में जारी किया जाएगा.

वैसे तो यह लिस्ट पहले ही जारी हो जानी थी, मगर सरकार का ध्यान इन लोगों पर नहीं गया. अब जब कोरोना काल में मेडिकल स्टॉफ की कमी है, ऐसे में चयनित सीएचओ की सूची जारी कर दी गई है. चिकित्सा मंत्री ने बताया कि कोविड महामारी के चलते विशेषत: ग्रामीण श्रेत्रों में कोरोना नियंत्रण के लिए इन अभ्यर्थियों को फील्ड में लगाया जा रहा है.

तत्काल काम संभालने के आदेश
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि ये संविदा सीएचओ चयनित अभ्यर्थी मूल रूप से प्रशिक्षित नर्सिंग कर्मी एवं आयुर्वेद चिकित्सक हैं. कोरोना महामारी और चिकित्सा कर्मियों की आवश्यकता को देखते हुए इन्हें तत्काल फील्ड में भेजा जा रहा है. उन्होंने कहा कि सभी चयनित अभ्यर्थी आगामी तीन दिनों में आवश्यक रूप से अपनी ड्यूटी पर उपस्थिति देंगे. फील्ड में लगाए जाने से पूर्व संयुक्त निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं, क्षेत्रीय कार्यालय स्तर पर इन सभी का एक दिन का आमुखीकरण करवाया जाएगा. कोरोना के एक्टिव मामलों के अनुसार जरूरत के हिसाब से इन्हें जिलों में नियोजित किया जा रहा है.

गृह जिले में भी मिलेगी पोस्टिंग

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इन अभ्यथिर्यों द्वारा सीएचसी पर कोविड काउसलिंग कार्य तथा डोर टू डोर सर्वे आदि कार्य किए जाएंगे. प्रदेश के समस्त जिलें में कोरोना के एक्टिव केसेज की संख्या के आधार पर कार्य करने के लिए इनकी सेवाएं इनके गृह जिले या इनके पास के जिलों के जिला कलक्टर को सौंपी गई हैं. उन्होंने कहा कि अभ्यर्थी अपना परिणाम व अन्य जानकारी विभाग की वेबसाइट  www.rajswasthya.nic.in  पर प्राप्त कर सकते हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज