अब पुलिस थानों पर होगा 'खास स्वागत'! सरकार ने आवंटित किए 441 लाख रुपए
Jaipur News in Hindi

अब पुलिस थानों पर होगा 'खास स्वागत'! सरकार ने आवंटित किए 441 लाख रुपए
सरकार ने आवंटित किए 441 लाख रुपए. (प्रतीकात्मक तस्वीर/GettyImages)

राजस्थान में पुलिस थानों में स्वागत कक्ष (reception rooms) निर्माण के लिए 63 पुलिस थानों के लिये 441 लाख रुपए का बजट आवंटित किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 7:21 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
जयपुर. संसदीय कार्य मंत्री शान्ति कुमार धारीवाल ने गुरुवार को विधानसभा में कहा कि प्रदेश के पुलिस थानों में स्वागत कक्ष (reception rooms) निर्माण के लिए 63 पुलिस थानों के लिये 441 लाख रुपए का बजट आवंटित किया गया है और 317 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाने का कार्य प्रगति पर हैं. धारीवाल प्रश्नकाल में विधायकों द्वारा इस संबंध में पूछे गये पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे. उन्होंने कहा कि अब तक 398 स्वागत कक्षों में से 135 विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास कोष, 91 जन सहभागिता, 66 स्टेट प्लान, 48 सीएसआर, 17 पंचायत राज संस्थाओं, 14 नगरपालिकाओं, 10 मनरेगा, 9 नगर विकास न्यास, 4 जिला कलक्टर के अनटाइड फण्ड तथा 4 राज्य वित्त आयोग के अंतर्गत स्वीकृत किये गये हैं.

चौमूं विधानसभा क्षेत्र के चार थानों में विधायक कोष से राशि
उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत भामाशाह, सांसद एवं विधायक कोष के साथ जन सहयोग भी लिया जा सकता हैं. उन्होंने बताया कि चौमूं विधानसभा क्षेत्र के चार थानों सामोद, कालाखेड़ा, गोविन्दगढ़ तथा चौमूं के लिए विधायक कोष से 32 लाख रुपए देने के लिए विधायक द्वारा पत्र लिखा गया है लेकिन वर्ष 2020-21 में विधायक कोष में राशि प्राप्त होने पर यह राशि देय होगी. उन्होंने कहा कि चौमूं विधानसभा क्षेत्र के चारों थानों में स्वागत कक्ष निर्माण के लिए यह राशि प्राप्त होने से पहले ही कार्य प्रगतिरत हैं. उन्होंने कहा कि थानों में स्वागत कक्ष के निर्माण के लिए प्रत्येक थाने को 7-7 लाख रुपए दिये गये हैं. इसके अतिरिक्त फर्नीचर के लिए 98 हजार रुपए अतिरिक्त देय हैं.

थाने में ही स्वागत कक्ष बनाया जाएगा



धारीवाल ने कहा कि किसी भी योजना की क्रियान्विति विभिन्न चरणों में होती है. प्रथम वर्ष में प्रथम चरण, द्वितीय वर्ष में द्वितीय चरण तथा तृतीय वर्ष में तृतीय चरण में योजना का क्रियान्वयन किया जाता है. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की सोच है कि यदि जमीन उपलब्ध है तो थाने में ही स्वागत कक्ष बनाया जाएगा या फिर थाने के ही भवन में स्वागत कक्ष संचालित किया जाये.



457 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाना शेष
इससे पहले विधायक रामलाल शर्मा के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में धारीवाल ने बताया कि राज्य के 893 पुलिस थानों में से 869 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाने हैं. इनमें से 95 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जा चुके हैं, 317 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाने का कार्य प्रगति पर है एवं 457 पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाना शेष है. उन्होंने बताया कि प्रदेश के पुलिस थानों में स्वागत कक्ष बनाये जाने हेतु पत्र क्रमांक एफ.17(क)(7)गृह-2/2019 दिनांक 29 अगस्त 2019 के द्वारा 63 पुलिस थानों के लिये 441.00 लाख रुपए का बजट आवंटित किया गया है. उन्होंने इसका जिलेवार विवरण सदन के पटल पर रखा.

ये भी पढ़ें-

PHOTOS: फ्रांसीसी जोड़े ने जोधपुर में मारवाड़ी रीति-रिवाज से मंदिर में रचाई शादी

हाेटल में मसाज करवा रही जर्मन महिला पर्यटक से छेड़छाड़, आरोपी गिरफ्तार
First published: February 27, 2020, 7:21 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading