अपना शहर चुनें

States

Aam Aadmi Party: राजस्थान में संगठन मजबूती की कवायद, 18 फरवरी करेगी ये बड़ा आंदोलन

1 करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य
1 करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य

राजस्थान (Rajasthan) में भी आम आदमी पार्टी अब संगठन विस्तार के लिए जोर-शोर से जुटेगी. इसके लिए जल्द ही एक बड़े आंदोलन (Movements) के साथ विशेष अभियान की शुरुआत की जाएगी.

  • Share this:
जयपुर. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Elections) के नतीजों से दूसरे राज्य में भी आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के कार्यकर्ता जबर्दस्त उत्साह से लबरेज हैं. दिल्ली से बाहर अब इसके संगठन विस्तार (Organization extension) की कवायद फिर से शुरू हो गई है. राजस्थान (Rajasthan) में भी आम आदमी पार्टी अब संगठन विस्तार के लिए जोर-शोर से जुटेगी. इसके लिए जल्द ही एक बड़े आंदोलन (Movements) के साथ विशेष अभियान की शुरुआत की जाएगी. दिल्ली में आम आदमी पार्टी तीसरी बार सरकार बना रही है. रविवार को अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) सीएम पद की शपथ लेंगे.

बिजली और गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा
पार्टी के प्रदेश सचिव देवेंद्र शास्त्री का कहना है कि दिल्ली मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण के बाद दिल्ली में ही एक बैठक होगी. इसमें राजस्थान प्रदेश कार्यकारिणी के आमंत्रित सदस्यों के साथ प्रदेश संगठन और निगम व पंचायत चुनावों पर होगी चर्चा होगी. संगठन को मजबूत करने की कवायद के मद्देनजर आम आदमी पार्टी प्रदेश की कांग्रेस सरकार और केंद्र की बीजेपी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलेगी. इसके लिए सबसे पहले बिजली और गैस की बढ़ी कीमतों के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा. पार्टी 18 फरवरी को प्रदेशव्यापी आंदोलन करेगी. इसके तहत सभी जिला मुख्यालयों पर धरना दिया जाएगा. पार्टी द्वारा राज्यपाल के नाम राज्य सरकार और केंद्र सरकार के खिलाफ अलग-अलग ज्ञापन सौंपे जाएंगे.

उद्योग-धंधे रोजगार के अवसर घटते जा रहे हैं
पार्टी के मीडिया प्रभारी अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा कि गैस सिलेंडर की कीमत में 145 रुपये बढ़ाये गए हैं, जबकि आम आदमी पहले ही महंगाई की मार झेल रहा है. उद्योग-धंधे रोजगार के अवसर घटते जा रहे हैं. आम आदमी पार्टी राजस्थान की मांग है कि गैस सिलेंडर और बिजली की बढ़ाई गई दरें तत्काल वापस ली जाए. इनकी कीमतों में कमी करके प्रदेश की जनता को राहत दी जाए.



प्रदेश में लंबे समय से किए जा रहे है पार्टी में जान फूंकने के प्रयास
उल्लेखनीय है कि वर्तमान में प्रदेश में आम आदमी पार्टी संगठनात्मक रूप से काफी कमजोर चल रही है. इसे मजबूत करने के लिए गत विधानसभा चुनाव के समय से ही प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन उसे इसमें कोई खास सफलता नहीं मिल पाई. अब दिल्ली में तीसरी बार पार्टी की जबर्दस्त जीत से कार्यकर्ताओं में उत्साह है. वे जोश-खरोश के साथ अब संगठन विस्तार में जुट गए हैं.

 

सिर चढ़कर बोल रहा AAP के अरविंद का जादू, शादी के कार्ड पर भी 'आई लव केजरीवाल'

 

CAA प्रोटेस्ट में पहुंचे CM गहलोत, कहा- किसी को डिटेंशन कैंप नहीं जाने दूंगा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज