एसीबी ने रिश्वत लेते असिस्टेंट कमिश्नर को रंगे हाथ किया गिरफ्तार

एसीबी ने झालाना डूंगरी स्थित वाणिज्य कर विभाग की असिस्टेंट कमिश्नर अनुसुइया कुमारी व रिटायर्ड बाबू रवि पारीक को 1 लाख 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया.

Rakesh Gusai | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 9:13 PM IST
एसीबी ने रिश्वत लेते असिस्टेंट कमिश्नर को रंगे हाथ किया गिरफ्तार
एसीबी ने झालाना डूंगरी स्थित वाणिज्य कर विभाग की असिस्टेंट कमिश्नर अनुसुइया कुमारी को 1 लाख 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया.
Rakesh Gusai | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 9:13 PM IST
जयपुर में एसीबी ने एक बार फिर बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए वाणिज्य कर विभाग में भ्रष्टाचार को उजागर किया. एसीबी ने झालाना डूंगरी स्थित वाणिज्य कर विभाग की असिस्टेंट कमिश्नर अनुसुइया कुमारी व रिटायर्ड बाबू रवि पारीक को 1 लाख 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. रिश्वत की ये रकम टैक्स रिफंड को देने की एवज में मांगी गई थी. परिवादी की शिकायत को पुख्ता करते हुए एसीबी के एएसपी नरोत्तम वर्मा की टीम ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया है. एएसपी नरोत्तम वर्मा ने बताया कि परिवादी का करीब 8 लाख रुपए का टैक्स रिफंड बकाया था और ये विभाग की ओर से ऑनलाइन ही जारी किया जाता है. लेकिन रिश्वत के लिए असिस्टेंट कमिश्नर अनुसुइया कुमारी ने विभाग के रिटायर्ड कर्मचारी रवि पारीक के जरिए उनकी फाइल में ऑब्जेक्शन लगाया और उन्हें व्यक्तिगत रूप से विभाग में बुलाया.

... और खुलासे होने की संभावना

एसीबी अधिकारियों की माने तो दलाल की भूमिका में रहा रवि पारीक करीब चार महीने पहले ही रिटायर हो चुका है.


एएसपी ने कहा कि परिवादी से रिफंड के बदले 20 प्रतिशत राशि की मांग की गई. लेकिन सौदा 15 प्रतिशत में तय हुआ. जैसे ही इन रिश्वतखोरों ने रिश्वत की राशि 1 लाख 15 हजार रुपए परिवादी से ली, उसी समय एसीबी की टीम ने उन्हें दबोच लिया.

वहीं एसीबी अधिकारियों की माने तो दलाल की भूमिका में रहा रवि पारीक करीब चार महीने पहले ही रिटायर हो चुका है. लेकिन वह आज भी विभाग में नियमित कर्मचारी की तरह काम कर रहा है. फिलहाल एसीबी मामले की जांच में जुटी है. माना जा रहा है कि पूछताछ में कुछ और खुलासे सामने आ सकते हैं.

ये भी पढ़ें - नाबालिग छात्रा को बाइक पर जबरन बैठा ले जाकर गैंगरेप

ये भी पढ़ें - वर्कशॉप की आड़ में चोरी की बाइक बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश
Loading...

 
First published: August 2, 2019, 9:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...