लाइव टीवी

BJP के धाकड़ MLA को ठगने की फिराक में था राजस्थान का ये बदमाश, लेकिन...

Vikas Singh Chauhan | News18 Madhya Pradesh
Updated: January 14, 2020, 7:35 PM IST
BJP के धाकड़ MLA को ठगने की फिराक में था राजस्थान का ये बदमाश, लेकिन...
बीजेपी एमएलए आकाश विजयवर्गीय को ठगने की कोशिश करने वाला आरोपी गिरफ़्तार

आरोपी सुरेश (Accused Suresh bhariya) उर्फ भेरिया घांची बेहद शातिर है. वो अब तक इसी तरह से 60 से ज्यादा रसूखदार लोगों को ठग चुका है.

  • Share this:
इंदौर.भाजपा विधायक (bjp mla) आकाश विजयवर्गीय (akash vijayvargiya) को एसपी (SP) बनकर ठगने (THUG) की कोशिश करने वाला आरोपी पकड़ा गया. सुरेश घांची नाम का ये आरोपी राजस्थान (Rajasthan) का शातिर बदमाश है. उसके खिलाफ राजस्थान में 60 से ज़्यादा मामले दर्ज हैं. पुलिस ने उसे पाली में गिरफ्तार किया और फिर लग्जरी गाड़ी में लेकर इंदौर पहुंची.इस लापरवाही पर पुलिस (police) पर भी सवाल उठ रहे हैं.

खुद को एसपी बताया था
ठगी की कोशिश करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.फोन पर खुद को इंदौर एसपी युसूफ कुरैशी बताकर आरोपी ने विधायक आकाश विजयवर्गीय से 10 लाख रुपए की मांग की थी.आरोपी का नाम सुरेश उर्फ भेरिया घांची है, जिसे राजस्थान के फालना इलाके से गिरफ्तार किया गया.

ठग का इतिहास

बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय से पैसे ऐंठने की फिराक में घूम रहा आरोपी सुरेश उर्फ भेरिया घांची बेहद शातिर है. वो अब तक इसी तरह से 60 से ज्यादा रसूखदार लोगों को ठग चुका है. आरोपी ने 9 जनवरी को आकाश विजयवर्गीय को फोन किया था और खुद को एसपी इंदौर युसूफ कुरैशी बताया था. उसने अपने परिवार की मदद के लिए आकाश से 10 लाख रुपए की मदद मांगी थी. उसने अपना बैंक डिटेल भी उन्हें भेजा था.

एसपी से शिकायत
बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय को इस फोन काल पर संदेह हुआ तो उन्होंने सीधे एसपी युसूफ कुरैशी को फोन कर दिया. फौरन ही पता चल गया कि एसपी के नाम पर कोई उन्हें ठगने की कोशिश कर रहा था. पुलिस ने फौरन मामले को जांच के लिए क्राइम ब्रांच को सौंप दिया था. पुलिस ने पड़ताल कर आरोपी सुरेश को गिरफ्तार कर लिया.ट्रू कॉलर पर सेटिंग
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आरोपी सुरेश उर्फ भेरिया घांची बेहद शातिर है. उसके खिलाफ राजस्थान के कई जिलों में मामले दर्ज हैं. ये नटवरलाल के नाम से ज्यादा पहचाना जाता है और मिमिक्री करने में माहिर है.मोबाइल और इंटरनेट का जानकार होने के साथ ही फोन लगाने से पहले ट्रू कॉलर पर भी संबंधित अधिकारी का नाम सेट कर लेता था. पूछताछ के लिए आरोपी को 7 दिन की पुलिस रिमांड पर लिया गया है.

लग्जरी गाड़ी में लाए शातिर को
इंदौर क्राइम ब्रांच ने सुरेश घांची को राजस्थान के पाली से गिरफ्तार किया. वो उसे लक्जरी गाड़ी से लेकर पुलिस कंट्रोल रूम पहुंची.,गिरफ्तार आरोपी राजस्थान का बदमाश है. उस पर साठ मुकदमे दर्ज हैं. बाबजूद इसके पुलिस अधिकारी निजी गाड़ी में आरोपी को लापरवाही के साथ लेकर पहुंचे इसे बड़ी चूक माना जा रहा है.

कौन हुआ शिकार
पुलिस अधीक्षक सूरज वर्मा के मुताबिक़ विधायक आकाश विजयवर्गीय ने रिपोर्ट की थी कि उनके मोबाइल पर किसी का फोन आया था जो खुद को पुलिस अधीक्षक बता रहा था. उसने नजदीकी रिश्तेदार के लिए 10 लाख रुपए मांगे थे.मामले में पड़ताल करने पर आरोपी की पहचान हुई. आरोपी सुरेश से पूछताछ की जा रही है. पुलिस इस बात की जानकारी जुटा रही है कि आखिर शातिर बदमाश अब तक किस-किस को अपना शिकार बना चुका है.

ये भी पढ़ें-कांग्रेस को EVM पर भरोसा नहीं, स्थानीय निकाय चुनाव बैलेट पेपर से कराने की मांग

शहडोल अस्पताल में 12 घंटे में 6 नवजात की मौत, प्रशासन पर उठे सवाल

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इंदौर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 6:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर