Jaipur: ACS रोहित कुमार सिंह जेपी इंटरनेशनल अवार्ड- 2020 से सम्मानित

सिंह के नेतृत्व में मेडिकल विभाग ने कोरोना के खिलाफ बेहद उम्दा रण्नीति के साथ कार्य किया था.
सिंह के नेतृत्व में मेडिकल विभाग ने कोरोना के खिलाफ बेहद उम्दा रण्नीति के साथ कार्य किया था.

राजस्थान ब्यूरोक्रेसी के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी रोहित कुमार सिंह (Rohit Kumar Singh) को लोकनायक जयप्रकाश अंतरराष्ट्रीय अध्ययन विकास केंद्र की ओर से जेपी इंटरनेशनल अवार्ड- 2020 (JP International Award - 2020) से सम्मानित किया गया है.

  • Share this:
जयपुर. भारतीय प्रशासिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी IAS रोहित कुमार सिंह (Rohit Kumar Singh) को जेपी इंटरनेशनल अवार्ड- 2020 से सम्मानित किया गया है. राजस्थान सरकार में अतिरिक्त मुख्य सचिव ग्रामीण एवं पंचायतीराज विभाग के पद पर कार्यरत रोहित कुमार सिंह को 'एडमिनिस्ट्रेशन एवं गुड गवर्नेंस' (Administration and Good Governance) के लिये रविवार को नई दिल्ली में आयोजित समारोह में केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने यह सम्मान प्रदान किया. सिंह को यह सम्मान लोकनायक जयप्रकाश अंतरराष्ट्रीय अध्ययन विकास केंद्र की ओर से प्रदान किया गया है.

PHOTOS: कच्चे छप्पर में 6 बेटियों और 1 मंदबुद्धि बेटे के साथ सिसकती मां, बेबसी की इंतहा

प्रदेश में कोरोना के खिलाफ जंग का नेतृत्व कर चुके हैं सिंह
राजस्थान ब्यूरोक्रेसी के वरिष्ठ अधिकारी रोहित कुमार सिंह विभिन्न अहम पदों पर बड़ी जिम्मेदारियां निभा चुके हैं. सिंह इससे पहले अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह विभाग के पद पर कार्यरत थे. वहीं उससे पहले सिंह के पास बतौर अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग का जिम्मा था. सिंह ने कोरोना काल की शुरुआत में इस पद पर रहते हुये प्रदेश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई की बागडोर संभाली थी. उनके नेृतत्व में मेडिकल विभाग ने कोरोना के खिलाफ बेहद उम्दा रण्नीति के साथ कार्य किया था. राज्य में उनके कार्यकाल में कोरोना के खिलाफ लड़ी गई लड़ाई की केन्द्र सरकार ने भी प्रशंसा की थी. कोरोना काल में बेहतरीन प्रबंधन के लिये ही सिंह को इस अवार्ड से सम्मानित किया गया है.
Barmer: अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर महिला ने एक साथ 3 बेटियों को दिया जन्म



गहलोत लेकर अन्य वरिष्ठ अधिकारी उनकी कार्यशैली के प्रशंसक हैं
सिंह की कार्यशैली काफी अलग और सुलझी हुई है. सीएम अशोक गहलोत लेकर अन्य वरिष्ठ अधिकारी उनकी कार्यशैली के प्रशंसक हैं. सौम्य स्वभाव के सिंह किसी भी कार्य को अंजाम देने के लिये बेहतर रणनीति बनाते हैं और फिर उसे अमली जामा पहनाते हैं. यही कारण है कि प्रदेश में कोरोना के खिलाफ लड़ी गई जंग में उन्होंने पूरे आक्रमक तरीके से फ्रंट लाइन पर मोर्चा संभाले रखा. राजस्थान के ब्यूरोक्रेट्स में अपनी कार्यशैली के कारण अलग पहचान रखने वाले सिंह पूर्व में भी सफलता के कई झंडे गाड़ चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज