Home /News /rajasthan /

प्राइवेट पार्ट्स में छिपाकर लाई 16 करोड़ की ड्रग्स, 30 घंटे चली जांच, इतने दिन लगे निकालने में

प्राइवेट पार्ट्स में छिपाकर लाई 16 करोड़ की ड्रग्स, 30 घंटे चली जांच, इतने दिन लगे निकालने में

जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पकड़ी गई महिला युगांडा की बताई जा रही है.

जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पकड़ी गई महिला युगांडा की बताई जा रही है.

Jaipur News: जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर ड्रग तस्करी का अनोखा मामला पकड़ा गया है. अफ्रीकन मूल की एक महिला (African woman) अपने प्राइवेट पार्ट्स (Private Parts) और अन्य अंगों में 16 करोड़ के ड्रग्स से भरे कैप्सूल छिपाकर ले आई. डीआरआई (DRI) ने एयरपोर्ट पर महिला को पकड़ा है. महिला यात्री के शरीर के अंदर से कैप्सूल निकालने के लिए डॉक्टरों की मदद ली गई. गुप्तांगों समेत अन्य आंतरिक अंगों से करीब 60 कैप्सूल्स निकाले हैं. डीआरआई की ये कार्रवाई 30 घंटे से ज्यादा समय से चल रही है. महिला के शरीर के अलग अलग हिस्सों में छिपाए गए कैप्सूल को ऑपरेशन के जरिए निकालने की प्रक्रिया अभी भी जारी है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jaipur International Airport) पर एक बार फिर ड्रग तस्करी (Drug Smuggling) का बड़ा मामला पकड़ा गया है. यहां डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस (DRI) ने अफ्रीकन मूल की एक महिला यात्री को पकड़ा है. वह अपने गुप्तांगों (Private Parts) समेत अन्य अंगों में इस ड्रग्स को कैप्सूल के रूप में छिपाकर लाई थी. महिला के शरीर से ड्रग्स से भरे करीब 60 कैप्सूल्स (Capsules) निकाले जा चुके हैं. महिला के शरीर से निकाले गये इस ड्रग्स की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करोड़ों रुपये बताई जा रही है. यह ड्रग कौनसा है इसकी अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है. लेकिन इसके हेरोइन होने की संभावना जताई जा रही है. डीआरआई की टीम महिला से पूछताछ कर रही है.

सूत्रों के मुताबिक पकड़ी गई महिला शारजाह से आई थी. उसे शनिवार आधी रात को एयरपोर्ट पर पकड़ा गया था. शक होने पर डीआरआई की टीम ने उसे पकड़ा था. यह महिला यात्री अपने गुप्तांगों और अन्य आंतरिक अंगों में ड्रग छिपाकर तस्करी कर रही थी. जांच में उसके शरीर कैप्सूलनुमा कुछ चीज छिपे होने की बात सामने आई. पकड़ी गई महिला युगांडा की बताई जा रही है.

करीब 60 कैप्सूल निकाले जा चुके हैं
इस पर डीआरआई टीम ने महिला यात्री के शरीर के अंदर से कैप्सूल निकालने के लिए सवाई मानसिंह अस्पताल के चिकित्सकों की मदद ली है. चिकित्सकों ने उसके गुप्तांगों समेत अन्य आंतरिक अंगों से करीब 60 कैप्सूल्स निकाले हैं. उनमें सफेद ड्रग भरा हुआ है. उसकी लैब टेस्टिंग करवाई जा रही है. अस्पताल के जनरल सर्जरी वार्ड में भर्ती यह महिला अभी डॉक्टर्स के ऑब्जर्वेशन में है.

30 घंटे से ज्यादा समय से चल रही है जांच की प्रक्रिया
डीआरआई की ये कार्रवाई 30 घंटे से ज्यादा समय से चल रही है. महिला के शरीर के अलग अलग हिस्सों में छिपाए गए कैप्सूल को ऑपरेशन के जरिए निकालने की प्रक्रिया अभी भी जारी है. डीआरआई की टीम इस बात की तफ्तीश कर रही है की महिला यात्री इन ड्रग से भरे कैप्सूल को कहां पर सप्लाई करने वाली थी. इस नेटवर्क में कौन कौन लोग शामिल हैं. इस मामले की गहराई से तफ्तीश की जा रही है.

जोरों पर है गोल्ड और मादक पदार्थों की तस्करी
उल्लेखनीय है कि जयपुर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहले भी गोल्ड और मादक पदार्थों की तस्करी पकड़ी जा चुकी है. बीते तीन चार साल में दोनों ही तरह की तस्करी के खासा इजाफा हुआ है. यहां गुप्तांगों में छिपाकर गोल्ड और मादक पदार्थों के भी कई मामले सामने आ चुके हैं. इनको देखते हुये सुरक्षा और अन्य जांच एजेंसियां लगातार अलर्ट मोड पर हैं.

Tags: Drug Smuggling, Jaipur Airport, Jaipur news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर