पाली में भीषण पेयजल संकट, 10 साल बाद फिर पानी लेकर ट्रेन पहुंची

10 साल बाद एक बार फिर पाली की प्यास बुझाने के लिए वाटर ट्रेन गुरुवार को यहां पहुंची. भीषण पेयजल संकट से जूझ रहे पाली के वाशिंदों की अब यह ट्रेन जोधपुर के पानी से प्यास बुझाएगी. वाटर ट्रेन फिलहाल प्रतिदिन दो फेरे करेगी.

Shyam Choudhary | News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 5:02 PM IST
पाली में भीषण पेयजल संकट, 10 साल बाद फिर पानी लेकर ट्रेन पहुंची
वाटर ट्रेन से हौदियों में डाला जा रहा पानी। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Shyam Choudhary | News18 Rajasthan
Updated: July 25, 2019, 5:02 PM IST
10 साल बाद एक बार फिर पाली की प्यास बुझाने के लिए वाटर ट्रेन गुरुवार को यहां पहुंची. भीषण पेयजल संकट से जूझ रहे पाली के वाशिंदों की अब यह ट्रेन जोधपुर के पानी से प्यास बुझाएगी. वाटर ट्रेन फिलहाल प्रतिदिन दो फेरे करेगी. ट्रेन के एक फेरे में करीब 15 लाख लीटर पानी पाली लाया जाएगा.

फिल्टर करने के बाद की जाएगी आपूर्ति
पाली शहर की प्यास बुझाने वाला एकमात्र जल स्त्रोत जवाई बांध पूरी तरह से सूख चुका है. मानसून की बेरुखी के कारण अब जवाई बांध में नाममात्र का पानी बचा है. ऐसे में पाली शहर की प्यास बुझाने के लिए प्रशासन के पास वाटर ट्रेन ही सहारा बचा था. गुरुवार को वाटर ट्रेन आने के बाद जलदाय विभाग के अधिकारियों ने पहले तैयार होदियों में ट्रेन से पाइप के माध्यम से पानी को खाली करवाकर स्टोरेज टैंक तक पहुंचाया. वहां फिल्टर करने के बाद पानी की शहर में आपूर्ति की जाएगी. वाटर ट्रेन के पाली पहुंचने पर बड़ी संख्या में स्थानीय लोग भी उसे देखने के लिए रेलवे ट्रैक पहुंचे.

20 साल में चौथी बार ट्रेन से लाया गया है पानी

उल्लेखनीय है कि इससे पहले पाली में 2009, 2005 व 2002 में भी पेयजल की समस्या के चलते वाटर ट्रेन के माध्यम से पानी जोधपुर से पाली पहुंचाया गया था. पाली शहर की पेयजल आपूर्ति का एकमात्र स्त्रोत जवाई बांध है. वर्तमान में जवाई बांध में महज साढ़े तीन फीट से भी कम पानी बचा है. इससे 28 जुलाई तक पेयजल की आपूर्ति हो सकती थी. अभी पाली में 96 घंटों से यानी चार दिन से पानी से आपूर्ति की जा रही है.

पाली के सूखे हलक: एक दशक बाद फिर वॉटर ट्रेन का सहारा

पाली में भीषण पेयजल संकट, अब वाटर ट्रेन बुझाएगी प्यास

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 5:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...