MLA राजेंद्र गुढ़ा के आरोपों के बाद BSP में गरमाई सियासत, दूसरे विधायकों ने किया खंडन

बहुजन समाज पार्टी के विधायक राजेन्द्र सिंह गुढ़ा की ओर से पैसे के बदले टिकट मिलने के दिए गए बयान के बाद पार्टी में अंदरुनी सियासत गरमा गई है. विधायक गुढ़ा के बयान के बाद बसपा के अन्य विधायकों ने इसका खंडन किया है.

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 12:47 PM IST
MLA राजेंद्र गुढ़ा के आरोपों के बाद BSP में गरमाई सियासत, दूसरे विधायकों ने किया खंडन
विधायक राजेन्द्र गुढ़ा। फाइल फोटो।
Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: August 2, 2019, 12:47 PM IST
बहुजन समाज पार्टी के विधायक राजेन्द्र सिंह गुढ़ा की ओर से पैसे के बदले टिकट मिलने के दिए गए बयान के बाद पार्टी में अंदरुनी सियासत गरमा गई है. विधायक गुढ़ा के बयान के बाद बसपा के अन्य विधायकों ने इसका खंडन किया है. बसपा विधायकों का कहना है कि पार्टी में योग्यता के आधार पर टिकट मिलता है.

बसपा विधायक बोले उनकी वो जानें
बसपा के झुंझुनूं जिले की उदयपुरवाटी विधानसभा क्षेत्र से विधायक राजेन्द्र सिंह गुढ़ा ने गुरुवार को बयान देते हुए कहा था कि ''हमारी पार्टी में पैसे लेकर टिकट दिया जाता है. कोई और ज्यादा पैसा दे देता है तो पहले वाले का टिकट कट जाता है और दूसरे को मिल जाता है.'' गुढ़ा के इस बयान के बाद बसपा विधायक जोगेंद्र सिंह ने कहा कि राजेन्द्र गुढ़ा ने जो बयान दिया है उनकी वो ही जानें. मैंने कोई पैसा नहीं दिया. वहीं बसपा के दूसरे विधायक वाजिब अली ने कहा कि पार्टी में योग्यता के आधार पर टिकट मिलते हैं. बकौल अली उन्होंने टिकट के लिए कोई पैसा नहीं दिया है.

पहले भी चर्चाओं में रह चुके हैं विधायक गुढ़ा

उल्लेखनीय है कि बसपा विधायक राजेन्द्र गुढ़ा ने गुरुवार को विधानसभा में राष्ट्रमंडलीय संसदीय़ संघ की राजस्थान शाखा की ओर से आयोजित सेमिनार के दौरान एक सवाल पूछते हुए यह बयान दिया था. इस पर सत्र के वक्ता तो कुछ जवाब नहीं दे पाए, लेकिन डाइस पर बैठे उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि इसका जबाव तो मायावती ही दे सकती है. गुढ़ा पिछली गहलोत सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं. अपनी आक्रामक कार्यप्रणाली और बेबाक बयानों के कारण गुढ़ा कई बार चर्चाओं में रह चुके हैं.

सीपीए कांफ्रेंस: प्रो. जोया हसन के बयान पर उपजा विवाद 

पं.दीनदयाल उपाध्याय के स्मारक का रखरखाव करेगी गहलोत सरकार
First published: August 2, 2019, 11:51 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...