Alert: जयपुर में मादक पदार्थ मिलाकर ग्राहकों को परोसी जा रही है चाय-कॉफी! बनाया जा रहा है नशे का आदी

जयपुर कमिश्नरेट पुलिस की ओर से मादक पदार्थों के खिलाफ चलाए जा रहे ऑपॅरेशन क्लीन स्वीप की कार्रवाई और पड़ताल में यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. (File Photo)

राजधानी जयपुर (Jaipur) में किसी टी-स्टॉल या थड़ी पर अगर आप एक कप गर्म चाय या कॉफी (Tea or Coffee) पीने की इच्छा रखते हैं तो जरा संभल (Alert) जाए. हो सकता है आपको जो चाय-कॉफी परोसी जा रही है वह उसमें स्मैक, गांजा और डोडा पोस्त जैसा मादक पदार्थ (Intoxicant) मिला हो !

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर (Jaipur) में किसी टी-स्टॉल पर अगर आप एक कप गर्म चाय या कॉफी (Tea or Coffee) पीने की इच्छा रखते हैं तो जरा संभल (Alert) जाए. हो सकता है, आपको जो चाय-कॉफी परोसी जा रही है, उसमें स्मैक, गांजा और डोडा पोस्त जैसा मादक पदार्थ (Intoxicant) मिला हो. चाय-कॉफी बनाकर बेचने वाले कुछ दुकानदार आपको उनके यहीं का पक्का ग्राहक (Permanent customer) बनाने के लिए यह हथकंडा अपना रहे हैं, ताकि आप नशीली चाय-कॉफी के आदी (Addicted) हो जाएं और बार-बार वहीं जाएं.

ऑपॅरेशन क्लीन स्वीप के दौरान हुआ खुलासा
जयपुर कमिश्नरेट पुलिस की ओर से मादक पदार्थों के खिलाफ चलाए जा रहे ऑपरेशन क्लीन स्वीप की कार्रवाई और पड़ताल में यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. इन स्थितियों को देखते हुए मादक पदार्थों की तस्करी और इनका उपयोग करने वालों के खिलाफ पुलिस एकजुट हो गई है और असरदार तरीके से कार्रवाई करने के मूड में है. इस खुलासे के बाद पुलिस कुछ संदिग्ध थड़ी, टी-स्टाल और दुकानों से चाय-कॉफी के सैम्पल लेकर अब उनकी एफएसएल जांच कराने की तैयारी में भी है.

दो माह में 190 से अधिक मामले दर्ज
आदर्श नगर एसीपी पुष्पेन्द्र सिंह ने बताया कि ऑपरेशन क्लीन स्वीप के तहत पुलिस ने पिछले दो माह में 190 से अधिक मामले दर्ज करते हुए 225 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है. इस कार्रवाई के दौरान पुलिस ने मादक पदार्थों की सप्लाई करने वालों से जो पूछताछ की उससे एक चौंकाना वाला खुलासा हुआ है. तफ्तीश में सामने आया कि शहर में कुछ लोग जो चाय और कॉफी बनाकर बेचने का काम करते हैं, वे लोग मादक पदार्थों की सप्लाई करने वालों के संपर्क में थे. पुलिस ने मादक पदार्थों के सप्लायरों की निशानदेही पर कुछ दुकानदारों को राउंड अप किया है.

नशीली चाय-कॉफी पीने का आदी बनाते हैं
बकौल एसीपी सिंह जांच में सामने आया कि शहर में चाय-कॉफी का ठेला लगाने वाले और रेस्टोरेंट चलाने वाले कुछ लोग चाय-कॉफी में स्मैक, गांजा और डोडा पोस्ता मिलाते हैं. ये लोगों को नशीली चाय-कॉफी पीने का आदी बनाते हैं. पुलिस ने जांच-पड़ताल के आधार पर राजापार्क में दबिश देकर एक रेस्टोरेंट चलाने वाले युवकों को गिरफ्तार किया. पुलिस के अनुसार, ये लोग ग्राहक को बिना जानकारी दिए ही उन्हें इस लत का शिकार बना रहे थे.

 

 

अब तक इतने मादक पदार्थ पकड़े
जयपुर कमिश्नरेट पुलिस ने अपने ऑपरेशन के दौरान 320 किलो डोडा, 550 किलो गांजा, डेढ़ किलो अफीम, ढाई किलो चरस और 500 ग्राम स्मैक सहित 20 से अधिक वाहन बरामद कर उन्हें जब्त किया है. गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वे हाई-वे और शहर की दुकानों पर मादक पदार्थों की सप्लाई करते हैं. इस आधार पर जयपुर पुलिस ने शहर की ऐसी संदिग्ध चाय-कॉफी की दुकानों को सर्च करना शुरू कर दिया है. एसीपी सिंह ने बताया कि पकड़े गए अंकित गोयल और मनीष से मिली जानकारी के बाद संभव हो सकेगा तो दुकानों से सैम्पल लेकर उनकी एफएसएल जांच भी कराएंगे, ताकि पता चल सके की कौन लोग इस खेल को खेल रहे हैं.

 

किस देश के हैं JNU के 82 विदेशी छात्र? विश्‍वविद्यालय प्रशासन को भी नहीं मालूम

उदयपुर: पार्टी के प्रति आस्था की पराकाष्ठा, बेटे का नाम ही 'कांग्रेस' रख डाला

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.