लाइव टीवी

राजस्थान: BSP के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल, सोनिया गांधी ने दी शुभकामनाएं

Abhishek Aadha | News18 Rajasthan
Updated: January 3, 2020, 3:27 PM IST
राजस्थान: BSP के सभी 6 विधायक कांग्रेस में शामिल, सोनिया गांधी ने दी शुभकामनाएं
सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद विधायक रणवीर सिंह गुढ़ा ने कहा कांग्रेस के संकट के वक्त हनुमान बनकर मदद करता रहूंगा.

गत वर्ष सितंबर माह में अपनी पार्टी का दामन छोड़कर कांग्रेस (Congress) का हाथ थामने वाले राजस्थान के बसपा (BSP) के सभी 6 विधायकों (MLAs) ने शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस ज्वॉइन (Join) कर ली. सोनिया गांधी ने सभी विधायकों को शुभकामनाएं दी है.

  • Share this:
जयपुर. बीते वर्ष सितंबर माह में अपनी पार्टी का दामन छोड़कर कांग्रेस (Congress) का हाथ थामने वाले राजस्थान के बीएसपी (BSP) के सभी छह विधायकों (MLAs) ने शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस जॉइन कर ली. इन विधायकों ने कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे (Avinash Pandey) के चेंबर में पहुंचकर कांग्रेस जॉइन की. पार्टी के राज्य प्रभारी अविनाश पांडे ने इन सभी विधायकों को कांग्रेस के प्रतीक चिह्न वाला दुपट्टा पहनाकर पार्टी में शामिल करवाया.

सभी विधायकों को औपचारिक सदस्यता दी गई
बसपा को छोड़कर आए इन सभी विधायकों को कांग्रेस में शामिल होने के लिए पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सितंबर में ही अनुमति दे दी थी. उसके बाद शुक्रवार को सभी विधायकों को औपचारिक सदस्यता दी गई. सोनिया गांधी ने सभी विधायकों को शुभकामनाएं दी है. सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद विधायक रणवीर सिंह गुढ़ा ने कहा कांग्रेस के संकट के वक्त हनुमान बनकर मदद करता रहूंगा. गुढ़ा ने कहा कि 2008 में भी उन्होंने 6 विधायकों के साथ बसपा से आकर कांग्रेस ज्वॉइन की थी.

ये विधायक हैं शामिल

कांग्रेस ज्वॉइन करने वाले विधायकों में झुंझुनूं के उदयपुरवाटी विधायक राजेंद्र गुढ़ा, भरतपुर के नगर विधायक वाजिब अली, नदबई विधायक जोगिंदर अवाना, अलवर के तिजारा विधायक संदीप यादव, किशनगढ़बास विधायक दीपचंद खेरिया और करौली विधायक लाखन सिंह शामिल हैं.

विधायकों के इस फैसले से गरमा गई थी सियासत
उल्लेखनीय है कि करीब चार माह पूर्व बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के बाद प्रदेश की सियासत जबर्दस्त तरीके गरमा गई थी. पार्टी के इस कदम से बसपा सुप्रीमो मायावती काफी नाराज हो गई थीं. मायावती ने कांग्रेस पर कई आरोप लगाए थे. बाद में बसपा विधायकों ने विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को विलय पत्र भी सौंप दिया था. बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने से सीएम अशोक गहलोत पार्टी की अंदरूनी सियासत में मजबूत हुए हैं. वहीं कांग्रेस की राज्य सरकार को भी संख्या बल के हिसाब से मजबूती मिली है.ये भी पढ़ें-

पंचायत चुनाव: 12 जिलों की 166 ग्राम पंचायतों की चुनाव तारीख बदली, देखें सूची

BJP प्रदेशाध्यक्ष पूनिया जल्द करेंगे नई टीम की घोषणा, युवाओं को मिलेगी तरजीह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 3, 2020, 12:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर