अपना शहर चुनें

States

Big News: राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में सभी स्कूल, आंगनबाड़ी और स्वास्थ्य केन्द्रों को मिलेगा स्वच्छ पानी

सभी 33 जिलों में ‘इम्पलीमेंटेशन सपोर्ट एजेंसीज‘ के बारे में भी इस माह के अंत तक आदेश जारी कर दिए जाएंगे.
सभी 33 जिलों में ‘इम्पलीमेंटेशन सपोर्ट एजेंसीज‘ के बारे में भी इस माह के अंत तक आदेश जारी कर दिए जाएंगे.

राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों पानी की समस्या से जूझ रहे स्कूलों, आंगनबाड़ी एवं स्वास्थ्य केन्द्रों को बड़ी राहत देते हुये उन्हें जल कनेक्शन (Water connection) का देने का निर्णय किया है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में ग्रामीण क्षेत्रों में पानी के कनेक्शन (Water connection) से वंचित सभी स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप-स्वास्थ्य केन्द्र और पंचायत भवनों को आगामी 31 मार्च तक नल कनेक्शन से जोड़ा जायेगा. इससे इन संस्थाओं को बड़ी राहत (Big relief) मिलेगी और उनकी पानी संबंधी समस्या का स्थायी समाधान हो जायेगा.

जलदाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुधांश पंत ने बुधवार को झालाना स्थित जल एवं स्वच्छता सहयोग संगठन (डब्ल्यूएसएसओ) के कार्यालय में आयोजित राज्य जल एवं स्वच्छता मिशन की कार्यकारी समिति की बैठक इस संबंध में निर्देश दे दिये हैं. उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप-स्वास्थ्य केन्द्र और पंचायत भवनों के समीप स्थित पानी की टंकी, हैण्डपम्प और अन्य जल स्रोतों से लाइन डालकर वहां तक नल से कनेक्शन देने के लिए जलदाय विभाग के अधिकारी पंचायतीराज विभाग के अधिकारियों के साथ समन्वय करते हुए समयबद्ध रूप से इस कार्य को पूरा करें.

37 हजार समितियों का गठन हुआ पूरा
बैठक में जल जीवन मिशन के तहत सिंगल विलेज तथा मल्टी विलेज स्कीम्स के लिए विद्युत कनेक्शन एवं रखरखाव सम्बंधी कार्यों, परियोजनाओं के क्रियान्वयन में सामुदायिक भागीदारी तथा जिलों में ग्रामीण जल एवं स्वच्छता समितियों के गठन की प्रगति के बारे में भी चर्चा की गई. बैठक में बताया गया कि राज्य में जल जीवन मिशन में जिला जल एवं स्वच्छता समितियों के तहत 43364 ग्रामीण जल एवं स्वच्छता समितियों में से अब तक 37 हजार समितियों का गठन पूरा कर लिया गया है. शेष समितियों का गठन आगामी 31 जनवरी तक पूरा कर लिया जाएगा. इसके अलावा सभी 33 जिलों में ‘इम्पलीमेंटेशन सपोर्ट एजेंसीज‘ के बारे में भी इस माह के अंत तक आदेश जारी कर दिए जाएंगे.
बैठक में ये रहे मौजूद


बैठक में मुख्य अभियंता (ग्रामीण) आरके मीना, मुख्य अभियंता (विशेष प्रोजेक्ट्स) आरसी मिश्रा, मुख्य अभियंता (तकनीकी) संदीप शर्मा, डब्ल्यूएसएसओ के निदेशक अमिताभ शर्मा के अलावा ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग, वित्त विभाग, सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन और यूनिसेफ के प्रतिनिधि मौजूद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज