Mob Lynching Case: पहलू खान मामले में कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को बरी किया

राजस्थान के पहलू खान मॉब लिंचिंग केस (pahalu khan mob lynching case) में कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया है.

News18 Rajasthan
Updated: August 14, 2019, 6:56 PM IST
Mob Lynching Case: पहलू खान मामले में कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को बरी किया
पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में सभी 6 आरोपियों को कोर्ट ने बरी कर दिया है.
News18 Rajasthan
Updated: August 14, 2019, 6:56 PM IST
राजस्थान (Rajasthan) के पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए सभी 6 आरोपियों को बरी कर दिया है. अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश सरिता स्वामी इस केस पर फैसला सुनाते हुए सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. अलवर (Alwar) जिले के बहरोड़ (Behror) में करीब दो साल पहले पहलू खान की एक मॉब लिंचिंग की घटना (Pahalu khan mob lynching case) में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. बता दें कि इस फैसले में तीन नाबालिग आरोपियों को शामिल नहीं किया गया है.

फैसला आने के बाद कोर्ट से बाहर निकले पहलू खान पक्ष के वकील कासिम खान ने कहा कि केस की जांच सही ढंग से नहीं की गई है. पुलिस ने राजनीतिक दबाव में चार्जशीट पेश की थी. अभी कोर्ट का फैसला नहीं मिला है, फैसले का अध्ययन करने के बाद आगे की रणनीति बनाएंगे.

इन 6 आरोपियों को कर दिया गया है बरी
बता दें, पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में कुल 9 आरोपियों के खिलाफ जांच चली. इनमें से बुधवार को कोर्ट 6 आरोपियों का फैसला सुनाया. विपिन यादव, रविन्द्र कुमार, कालूराम, दयानंद, योगेश कुमार उर्फ धोलिया और भीम राठी को लेकर यह फैसला सुनाया गया. बता दें कि पहले एक आरोपी को नाबालिग की श्रेणी में नहीं रखा गया था लेकिन बाद में कुल 3 आरोपियों को नाबालिग मानकर उन्हें इस केस से अलग कर दिया गया.

7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई
इस मामले में कोर्ट में दोनों पक्षों की अंतिम बहस पूरी हो चुकी थी. कोर्ट ने मामले पर फैसले के लिए 14 अगस्त तारीख दे रखी थी. पुलिस ने पहलू खान हत्याकांड में 7 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी, जबकि 2 नाबालिग आरोपियों का मामला जुवेनाइल कोर्ट में चल रहा था.


Loading...

1 अप्रैल, 2017 को हुई थी घटना
बहरोड़ में 1 अप्रैल, 2017 को जयपुर के हटवाड़े से गाय लेकर जा रहे हरियाणा के नूंह मेवात निवासी पहलू खान और उसके बेटों उमर व ताहिर की भीड़ ने जमकर पिटाई की थी. पुलिस ने उनको भीड़ से छुड़ाकर बहरोड़ के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया था. वहां इलाज के दौरान पहलू खान की 4 अप्रैल, 2017 को मौत हो गई थी. इस मामले में कोर्ट में चालान के बाद नियमित सुनवाई हुई थी.

ये भी पढ़ें- जयपुर में उपद्रव, वाहनों में तोड़फोड़, आधे शहर में धारा 144

ये भी पढ़ें- राज्यसभा उपचुनाव: पूर्व PM मनमोहन सिंह का निर्विरोध जीतना तय
First published: August 14, 2019, 3:04 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...