Amended Motor Vehicle Act: समझाइश का दौर हुआ पूरा, कल से रहें सावधान, एक्शन में होगी ट्रैफिक पुलिस

अब आप ट्रैफिक नियमों की पालना में लापरवाही बरतेंगे तो आपको यह बेहद महंगा पड़ सकता है. (सांकेतिक तस्वीर)
अब आप ट्रैफिक नियमों की पालना में लापरवाही बरतेंगे तो आपको यह बेहद महंगा पड़ सकता है. (सांकेतिक तस्वीर)

संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के प्रावधानों के लागू होने के बाद जयपुर शहर (Jaipur City) में ट्रैफिक पुलिस ने दो सप्ताह तक इसके लिए समझाइश अभियान शुरू किया था. इस अभियान की समय अवधि गुरुवार को समाप्त हो रही है.

  • Share this:
जयपुर. बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने देश में नया मोटर व्हीकल एक्ट-2019 (Motor Vehicle Act-2019) गत वर्ष 1 सितंबर से लागू कर दिया था. लेकिन, राजस्थान में करीब 10 महीने बाद हाल ही में राज्य सरकार ने इसे संशोधित रूप से लागू किया है. संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट के प्रावधानों के लागू होने के बाद जयपुर शहर (Jaipur City) में ट्रैफिक पुलिस ने दो सप्ताह तक इसके लिए समझाइश अभियान शुरू किया था. इस अभियान की समय अवधि गुरुवार को समाप्त हो रही है. अब शुक्रवार से अगर आपने ट्रैफिक नियमों का उल्‍लंघन किया तो आपको भारी जुर्माना भरना पड़ सकता है

ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर यह लगेगा जुर्माना
मोबाइल पर बातचीत - 1 हजार रुपए
रेड लाइट जम्प करना - 1 हजार रुपए
शराब पीकर वाहन चलाना - 10 हजार रुपए और लाइसेंस निरस्त
खतरनाक ड्राइविंग - 1 हजार रुपये


बिना हेलमेट - 1 हजार रुपए
बिना सीट बैल्ट वाहन चालने पर - 1 हजार रुपए
बाइक पर दो से ज्यादा सवारी पर - 1 हजार रुपये
वाहन रेसिंग, ओवर स्पीड, रफ ड्राईविंग पर - 5 से 10 हजार रुपये
बिना रजिस्ट्रेशन वाहन सड़क पर चलाने पर - 2 से 5 हजार रुपये
अवधि पार लाइसेंस पाये जाने पर - 5 हजार रुपये
तेज गति भारी वाहन चलाने पर - 2 हजार रुपये
तेज गति से वाहन चलाने पर - 1 हजार

Rajasthan: केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की मुश्किलें बढ़ीं, अब कोर्ट ने दिये जांच के आदेश, जानिये क्या है पूरा मामला

करीब दस गुना तक बढ़ गयी है जुर्माना राशि
रेड लाइट जंप करने और पार्किंग नियम तोड़ने सरीखे सामान्य श्रेणी के उल्लंघन पर तो जुर्माना राशि कम है, लेकिन गंभीर श्रेणी के उल्लंघन पर जुर्माना राशि को करीब दस गुना बढ़ा दिया गया है. बढ़े हुए जुर्माने को देखते हुए जयपुर शहर ट्रैफिक पुलिस ने दो सप्ताह तक आम लोगों के लिये समझाइश अभियान चलाया था. उसके बाद अब वह कल से कार्रवाई के लिए फील्ड में उतरेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज