• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • अजय माकन ने बताया कब होगा गहलोत कैबिनेट का विस्तार, 'पायलट का मसला हमारे लेवल से बाहर'

अजय माकन ने बताया कब होगा गहलोत कैबिनेट का विस्तार, 'पायलट का मसला हमारे लेवल से बाहर'

राजस्थान कैबिनेट विस्तार पर AICC के महासचिव अजय माकन का बड़ा बयान.

राजस्थान कैबिनेट विस्तार पर AICC के महासचिव अजय माकन का बड़ा बयान.

Rajasthan Cabinet Expansion: प्रदेश प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की खराब तबीयत की वजह से लगा कैबिनेट विस्तार पर ब्रेक. सचिन पायलट (Sachin Pilot) का क्या करना है, ये हमारे लेवल से बाहर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

दिल्ली/जयपुर. कांग्रेस महासचिव और राजस्थान के प्रभारी अजय माकन (Ajay Maken) ने गहलोत कैबिनेट विस्तार (Ashok Gehlot Cabinet Expansion) पर बड़ा बयान दिया है. अजय माकन ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तबीयत ठीक रहती तो कैबिनेट का विस्तार हो गया होता. विधानसभा सत्र से पहले ही कैबिनेट विस्तार, राजनीतिक नियुक्तियां हो जातीं. फिलहाल, इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है. सीएम अशोक गहलोत की तबीयत ठीक होने के बाद भी कुछ फैसला लिया जाएगा. माकन ने पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Sachin Pilot) को लेकर भी बड़ी बात कही.

माकन ने कहा कि सचिन पायलट का राष्ट्रीय स्तर पर क्या करना है, ये हमारे लेवल से बाहर है. ये सोनिया गांधी तय करेंगी. राज्य स्तर पर क्या करना है, वो हम कर देंगे. इशारों में अजय माकन ने कहा,’सब तय है.  पूरा रोडमैप तैयार है. कब क्या करना है, कैसे करना है. अगर मुख्यमंत्री गहलोत की तबीयत ठीक होती तो अब तक कैबिनेट विस्तार हो गया होता. बस उनके ठीक होने का इंतजार है’. उन्होंने कहा कि कन्हैया या मेवानी की मुलाकात या उनके पार्टी में शामिल होने पर कोई जानकारी नहीं है.
कैबिनेट विस्तार के बाद घोषित हो सकते हैं जिला अध्यक्ष

माकन का कहना है कि कैबिनेट विस्तार के बाद जिला अध्यक्षों के नामों की घोषणा की जाएगी. बोर्ड और कॉर्पोरेशन में भी नियुक्तियां होंगी. माकन बोले- पूरा लाइन ऑफ एक्शन तय किया जा चुका है.

PHOTOS: राजा भैया और वसुंधरा राजे के बेटे दुष्यंत सिंह आपस में हैं रिश्तेदार, जानिए दोनों राजघरानों का कनेक्शन

परफॉर्मेंस रिपोर्ट की गई थी तलब
गहलोत कैबिनेट के विस्तार की चर्चाओं के बीच माना जा रहा था कि कुछ मंत्रियों पर गाज गिर सकती है. इतना ही नहीं मंत्रियों के विभाग बदलने की भी अटकलें थी. सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री कार्यालय ने सभी मंत्रियों की परफॉर्मेंस रिपोर्ट (Performance Reports) तलब की थी. कैबिनेट सचिवालय और प्रशासनिक सुधार विभाग ने मुख्यमंत्री कार्यालय को मंत्रियों की परफॉर्मेंस रिपोर्ट भेजने की भी चर्चा थी. यह सारी कवायद सियासी संकट से पार पाने और गहलोत-पायलट गुट के नये मंत्रियों को बराबर-बराबर एडजस्ट करने के लिए मानी जा रही है. सूत्रों बताते हैं कि, इस प्रक्रिया में कुछ मंत्रियों को हटाया जा सकता है, जबकि कुछ मंत्रियों को अतिरिक्त प्रभार की जिम्‍मेदारियों से मुक्‍त किया जा सकता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज