Home /News /rajasthan /

CM गहलोत ने की गृह मंत्री अमित शाह से बात, ऑक्सीजन की कमी से करवाया अवगत

CM गहलोत ने की गृह मंत्री अमित शाह से बात, ऑक्सीजन की कमी से करवाया अवगत

गहलोत ने राजस्थान में ऑक्सीजन और दवाओं की कमी से अवगत करवाया है.

गहलोत ने राजस्थान में ऑक्सीजन और दवाओं की कमी से अवगत करवाया है.

सीएम गहलोत ने टेलीफोन के जरिए बातचीत में केंद्र में बैठे लोगों से कहा कि राजस्थान में स्थिति बहुत नाजुक बन चुकी है. राजस्थान को एक्टिव केसेज की संख्या के अनुपात में ऑक्सीजन और जरूरी दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएं जिससे इस संकट को टाला जा सके.

अधिक पढ़ें ...
जयपुर. प्रदेश में ऑक्सीजन और दवाइयों की कमी लगातार बनी हुई है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज इसे लेकर केंद्र सरकार के प्रमुख लोगों से टेलिफोन पर बात की. केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ ही कैबिनेट सचिव राजीव गौबा, प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव पीके मिश्र और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल से सीएम गहलोत ने बात की है. गहलोत ने इन सभी को राजस्थान में ऑक्सीजन और दवाओं की कमी से अवगत करवाया है. साथ ही इन सभी से गहलोत ने अनुरोध किया है कि राजस्थान को एक्टिव केसेज की संख्या के अनुपात में ऑक्सीजन और जरूरी दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएं.

गौरतलब है कि राज्य सरकार द्वारा ऑक्सीजन और दवाइयों की कमी का मुद्दा लगातार केंद्र सरकार के समक्ष उठाया जा रहा है. पिछले दिनों सीएम गहलोत ने इसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी फोन पर बात की थी. वहीं केंद्रीय मंत्रियों - नेताओं से बात करने के लिए तीन सदस्यीय मंत्री समूह भी दिल्ली भेजा गया था.

स्थिति बहुत नाजुक है
सीएम गहलोत ने टेलीफोन के जरिए बातचीत में केंद्र में बैठे लोगों से कहा कि राजस्थान में स्थिति बहुत नाजुक बन चुकी है. राजस्थान को एक्टिव केसेज की संख्या के अनुपात में ऑक्सीजन और जरूरी दवाइयां उपलब्ध करवाई जाएं जिससे इस संकट को टाला जा सके. गहलोत ने कहा कि यहां एक्टिव केस तेजी से बढ़ रहे हैं. आज एक्टिव केसेज की संख्या करीब 1 लाख 70 हजार हो गई है. इसलिए ऑक्सीजन और दवाइयों का जल्द से जल्द एक्टिव केसेज के अनुपात में आवंटन करें जिससे जनता को राहत मिल सके.

Tags: Amit shah, Ashok gehlot, Jaipur news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर