लाइव टीवी

निकाय चुनाव: राजस्थान में जनता नहीं पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: October 31, 2019, 11:59 AM IST
निकाय चुनाव: राजस्थान में जनता नहीं पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख
सीएम अशोक गहलोत। फाइल फोटो

प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) ने अब स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) अप्रत्यक्ष प्रणाली (Indirect system) से कराने का निर्णय (Decision) किया है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश में स्थानीय निकाय चुनाव (Local body elections) अप्रत्यक्ष प्रणाली (Indirect system) से कराने का निर्णय (Decision) किया है. अब पार्षद ही निकाय प्रमुख (Head of the local body) और महापौर (Mayor) का चुनाव करेंगे. इसके पीछे स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) ने कई कारण गिनाए हैं. सोमवार को सीएमओ में सीएम अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक के बाद मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि चुनाव में हारने की डर की वजह से यह फैसला नहीं लिया है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि विपक्ष प्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव में हिंसा फैला सकता था. शांति, समरसता और भाईचारा बना रहे इसलिए हमने अपना फैसला पलटा है. उन्होंने कहा कि सांप्रदायिक माहौल को देखते हुए प्रत्यक्ष प्रणाली से चुनाव कराना संभव नहीं है. प्रत्यक्ष प्रणाली से जनता में भय और आक्रोश और हिंसा का माहौल देखने को मिलता है. उन्होंने सीधे बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि वह हिंसा का माहौल बनाने की कोशिश कर रही है.

निकाय चुनाव पर गहलोत सरकार का यू-टर्न, जनता नहीं पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख Gehlot government's U-turn, Not the public, councilors will choose the head of the local body
स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।


इस साल के अंत में होने हैं निकाय चुनाव
उल्लेखनीय है कि राजस्थान के 193 निकायों में 4 चरणों में इस वर्ष के अंत से चुनाव होने हैं. इसके तहत पहले चरण में 52 निकायों में इसी वर्ष नवंबर में चुनाव होना प्रस्तावित है. पहले चरण में 46 पुराने और 6 नए निकाय शामिल हैं. इस चरण में नसीराबाद, थानागाजी, परतापुर-गढ़ी, रूपवास, महुवा और खाटूश्यामजी जैसे नए गठित किए गए निकाय भी शामिल हैं. इन निकायों में वार्डों का फिर से सीमांकन पूरा हो चुका है. इनकी अधिसूचना जारी कर दी गई है.

पहले चरण में इन निकायों में होंगे चुनाव
1. उदयपुर संभाग - नगर निगम उदयपुर, नगरपरिषद चित्तौडगढ़, बांसवाड़ा और नगरपालिका निम्बाहेड़ा, रावतभाटा, प्रतापपुर-गढ़ी, नाथद्वारा, आमेट और कानोड़
2. जयपुर संभाग - नगर निगम जयपुर, नगरपरिषद अलवर, भिवाड़ी, झुंझनूं, सीकर और नगरपालिका थानागाजी, पिलानी, बिसाऊ, नीमकाथाना, खाटूश्यामजी और महुआ.
Loading...

3. जोधपुर संभाग - नगर निगम जोधपुर, नगरपरिषद बाड़मेर, बालोतरा, सिरोही, पाली, जालौर, जैसलमेर और नगरपालिका फलौदी, माउंटआबू, शिवगंज, पिंडवाड़ा, सुमेरपुर और भीनमाल.
4. बीकानेर संभाग - नगर निगम बीकानेर, नगरपरिषद- चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और नगरपालिका राजगढ़ और सूरतगढ़.
5. अजमेर संभाग - नगरपरिषद ब्यावर, मकराना, टोंक और नगरपालिका पुष्कर, नसीराबाद व डीडवाना.
6. कोटा संभाग - नगर निगम-कोटा और नगरपालिका सांगोद, कैथून, मांगरोल और छबड़ा.
7. भरतपुर संभाग - नगर निगम भरतपुर और रूपवास नगरपालिका.

गहलोत कैबिनेट के बड़ा फैसला, मीसा बंदियों की पेंशन होगी बंद

लेटलतीफ अधिकारियों-कर्मचारियों के खिलाफ एक्शन, 6000 की लगाई अनुपस्थिति

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 2:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...