Home /News /rajasthan /

गहलोत सरकार अपने ही विधायकों के फोन टैपिंग के आरोपों से घिरी, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

गहलोत सरकार अपने ही विधायकों के फोन टैपिंग के आरोपों से घिरी, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

इधर, गहलोत सरकार अपने ही कांग्रेस विधायकों के फोन टैपिंग के आरोपों से घिरी हुई है, वहीं सचिन पायलट अचानक दिल्ली चले गए हैं और वहां डेरा डाल दिया है. (सांकेतिक फोटो)

इधर, गहलोत सरकार अपने ही कांग्रेस विधायकों के फोन टैपिंग के आरोपों से घिरी हुई है, वहीं सचिन पायलट अचानक दिल्ली चले गए हैं और वहां डेरा डाल दिया है. (सांकेतिक फोटो)

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार एक बार फिर फोन टैपिंग के आरोपों से घिर गई है. इस बार सरकार पर अपने ही विधायकों के फोन टेप कराने के आरोप लग रहे हैं.

जयपुर. राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार एक बार फिर फोन टैपिंग के आरोप से  घिर गई है. इस बार सरकार पर अपने ही विधायकों के फोन टेप कराने के आरोप लग रहे हैं. कांग्रेस के विधायक वेद प्रकाश सोंलकी मे आरोप लगाया कि गहलोत सरकार कांग्रेस विधायकों के फोन टेप करवा रही है. उनकी जासूसी करवा रही है. कांग्रेस विधायकों  को भष्टाचार के मामलों में ट्रेप कराने की परोक्ष धमकियां मिल रही हैं. वेद प्रकाश सोलंकी ने कहा कि उन्हें कुछ विधायकों ने बताया कि उनके फोन टेप हो रहे हैं. और इसकी शिकायत कुछ विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी कर चुके हैं.

हाालंकि सोंलकी ने कहा कि उन्हें ये जानकारी नहीं कि उनका फोन टेप हो रहा है या नहीं. सोलंकी ने न्यूज18 से बात करते हुए कहा कि विधायकों दहशत है. कई विधायक कह रहे हैं कि इंटेलिजेंस के लोग उनका पीछा कर रहे हैं. निगरानी रख रहे हैं. बात करने से विधायक घबरा रहे हैं. हालांकि सोंलकी ने उन कांग्रेस विधायकोें के नामों का खुलासा नहीं किया. जिन्होंने उनसे फोन टेप होने और जासूसी करने की बात की.

ये पूरा मामला ऐसे वक्त आया जब सचिन पायलट दिल्ली में डेरा डाल कर बैठे हैं. 10 महीने पहले उनसे किए वादे पूरे करने की मांग को लेकर पायलट सरकार पर लगातार दबाब बना रहे हैं कि मंत्रीमंडल से हटाए गए उनके तीन मंत्रियों को मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा. मंत्रीमंडल का विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियां बिना देर करने की मांग कर रहे हैं. ऐसे फोन टेपिंग के आरोप ने गहलोत सरकार की मुसीबत बढ़ा दी हैं.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कांग्रेस से पूछा कि ये बताएं कि कौन से विधायक है जिनकी सरकार जासूसी करवा रही है. पूनिया ने लिखा कि सो जा नहीं तो गब्बर आ जाएगा कि तर्ज पर कांग्रेस अपने ही विधायकों को डरा रही है. कांग्रेस बताए गब्बर कब आएगा. बीजेपी नेता अरुण चतुर्वेदी ने कहा कि गहलोत सरकार ने पहले केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के कई नेताओं के फोन टेप कराए. अब कांग्रेस विधायकों के फोन टेप से साफ हो गया कि अशोक गहलोत सरकार बचाने के लिए विधायकों की जासूसी करवा रहे हैं और उन पर निगरानी रख रहे हैं.

Tags: Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Jaipur live news, Rajasthan Government Crisis

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर