होम /न्यूज /राजस्थान /गहलोत खेमे के मंत्री राजेन्द्र गुढा के बदले सुर, पायलट को बताया अभिमन्यु, कहा-उनको छला जा रहा है

गहलोत खेमे के मंत्री राजेन्द्र गुढा के बदले सुर, पायलट को बताया अभिमन्यु, कहा-उनको छला जा रहा है

राजेन्द्र गुढा ने कहा कि सचिन पायलट ने इतनी गालियां सुनने के बाद भी संयम नहीं खोया. यह बड़ी बात है.

राजेन्द्र गुढा ने कहा कि सचिन पायलट ने इतनी गालियां सुनने के बाद भी संयम नहीं खोया. यह बड़ी बात है.

Ashok Gehlot's minister Rajendra Gudha changed his tone: राजस्थान में चल रही राजनीतिक उठापटक के दौर में कई नेताओं के सु ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राजेन्द्र गुढा गहलोत के खास सिपाहसालार रहे हैं
सियासी घटनाक्रम के बाद से वे पायलट की पैरवी में जुटे हैं
दो साल पहले आए सियासी संकट के समय गहलोत के साथ खड़े थे

कृष्ण शेखावत.

जयपुर. राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच अब अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) खेमे के मंत्री राजेन्द्र गुढा (Rajendra Gudha) भी सचिन पायलट (Sachin Pilot) के समर्थन में उतर आए हैं. गुढा ने सचिन पायलट को अभिमन्यु बताते हुए बड़ा बयान दिया है. गुढा ने पिछले दिनों जयपुर में हुए राजनीतिक घटनाक्रम को पायलट के खिलाफ षड्यंत्र बताया है. उन्होंने कहा कि पायलट को अभिमन्यु की तरह छल से घेरा जा रहा. पायलट के खिलाफ षड्यंत्र किया गया था. गुढा यहीं नहीं थमे और कहा पायलट की इमेज खराब करने की कोशिश की गई. इसमें वे सफल भी हुए. गुढा बोले 2018 मे जो लोग लाइन में खड़े थे उन्हें पायलट ने टिकट दिलाया और जिताया. लेकिन बाद में उन्होंने ही पायलट के साथ धोखा किया.

सैनिक कल्याण मंत्री राजेंद्र गढ़ा ने यह बयान सोमवार को झुंझुनूं के जिले उदयपुरवटी इलाके में आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम में दिया. गुढा इसी विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. बसपा से चुनाव जीतकर कांग्रेस में शामिल हुए गुढा को गहलोत का सिपाहसालार माना जाता है. सियासी संकट में भी गहलोत खेमे के साथ खड़े थे. लेकिन मंत्री राजेंद्र गुढा अब पायलट की जमकर तारीफ कर रहे हैं. एक तरफ जहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत लगातार पायलट की पिछली बगावत को याद दिला रहे हैं वहीं उनके खेमे के मंत्री गुढा पायलट का पुरजोर बचाव करने में जुटे हैं.

गुढा ने लगाया आरोप, कहा-पायलट के साथ छल किया गया
पायलट राजस्थान में बीते 25 सितंबर हुए राजनीतिक घटनाक्रम के बाद पायलट खेमा पूरी तरह से चुप्पी साधे बैठा है. ऐसे में गहलोत खेमे के मंत्री राजेंद्र गुढ़ा के बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं. गुढा ने कहा कि मैंने पायलट को सावचेत भी किया था. अभी पायलट के साथ छल किया गया. उन्होंने कहा कि पायलट के लिए जिस तरह की भाषा का प्रयोग कर रहे हैं वह गलत है. पायलट ने इतनी गालियां सुनने के बाद भी संयम नहीं खोया. यह बड़ी बात है. नकली लोग नजदीक लगे और उन्होंने ही षड्यंत्र किया.

गुढा ने उठाया सवाल पायलट सीएम क्यों नहीं बन सकते?
उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्य सचेतक के लोगों ने छल किया. उन्होंने भी तो आलाकमान से गद्दारी की है. उन्होंने दिल्ली से आने वाले लोगों से बगावत की. ये गद्दारी है. गुढ़ा ने सवाल उठाया कि जब मानेसर जाने वाले कैंप में से पांच विधायक मंत्री बन सकते हैं तो पायलट को मुख्यमंत्री क्यों नहीं बनाया जा सकता? मंत्री राजेंद्र गुढा ने नाम लिए बिना मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के खून की नदियां बहाने वाले बयान पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि खून की नदियां बहाने वाले को भी मैं जानता हूं. वो क्या कर सकते हैं?

Tags: Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Jaipur news, Rajasthan Congress, Rajasthan news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें