राजस्थान में चला बड़ा सियासी तीर, गहलोत के करीबी मंत्री सुभाष गर्ग के ट्वीट ने मचाई खलबली, जानिये क्या कहा ?

डॉ. सुभाष गर्ग राष्ट्रीय लोकदल के विधायक हैं. वे भरतपुर से पहली बार विधायक बने हैं.

Political crisis in rajasthan: राजस्थान में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रम के बीच गहलोत सरकार के राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने एक ट्वीट कर खासी हलचल मचा दी है. डॉ. सुभाष गर्ग (Dr. Subhash Garg) को सीएम गहलोत का करीबी माना जाता है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में सियासी संकट (Political crisis) की हवायें दिन प्रतिदिन तेज होती जा रही है. इससे प्रदेश का राजनीति का मिजाज भी आजकल मौसम की माफिक हो रखा है. कब किस तरफ से बयानों और सियासी तीरों की आंधी आ जाये कुछ नहीं कहा जा सकता. कांग्रेस (Congress) में चल रही खींचतान के बीच ऐसा ही एक सियासी तीर पूर्वी राजस्थान की तरफ से चला है.

यह तीर चलाया है भरतपुर विधायक एवं गहलोत सरकार के राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने. गहलोत कैम्प के माने जाने वाले डॉ. सुभाष गर्ग ने ट्वीट कर कहा कि ''ये मौसम ही है ऐसा,आतुर हैं परिंदे ,घोंसले बदलने के लिए''. प्रदेश में लगातार हो रही राजनीतिक हलचल के बीच गर्ग का यह ट्वीट खास चर्चा में है. इसे ताजा राजनीतिक घटनाक्रम से जोड़कर देखा जा रहा है.

पायलट खेमा सक्रिय तो गहलोत खेमा है अलर्ट
राजस्थान में गत वर्ष आये सियासी संकट के बाद शिकवे-शिकायत दूर करने के लिये कांग्रेस आलाकमान की ओर से गठित की गई तीन सदस्यीय कमेटी की रिपोर्ट के इंतजार में करीब दस महीने गुजर चुके हैं. लेकिन अभी तक कमेटी ने अपनी रिपोर्ट नहीं आ पाई है. इससे पायलट खेमा अधीर हो रहा है. कमेटी की रिपोर्ट के अभाव में मंत्रिमंडल के विस्तार और राजनीतिक निुयक्तियों का मामला ठंडे बस्ते में पड़ा है. ऐसे में अब पायलट खेमा एक बार फिर से सक्रिय हो गया है. वहीं गहलोत खेमा लगातार चल रही इन गतिविधियों से सतर्क हो गया है.

राजस्थान में चला बड़ा सियासी तीर, गहलोत के करीबी मंत्री सुभाष गर्ग के ट्वीट ने मचाई खलबली, जानिये क्या कहा ? Rajasthan News-Jaipur News-Ashok Gehlot's closest minister Subhash Garg tweeted-stir in politics
डॉ. सुभाष गर्ग ने ट्वीट रविवार देर रात किया था.


राष्ट्रीय लोकदल से विधायक हैं गर्ग
डॉ. सुभाष गर्ग राष्ट्रीय लोकदल के विधायक हैं. वे भरतपुर से विधायक हैं. गर्ग पहली बार विधायक बने हैं और फर्स्ट चांस में ही मंत्री बन गये. राष्ट्रीय लोकदल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का सहयोगी दल रहा है. गर्ग लोकदल के एक मात्र विधायक हैं. माना जाता है कि सहयोगी पार्टी होने के नाते ही गर्ग को मंत्रिमंडल में जगह मिली है. गर्ग पूर्व में राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष रहे हैं. वे गहलोत के काफी करीबी माने जाते हैं. डॉ. गर्ग तकनीकी शिक्षा, संस्कृत शिक्षा और चिकित्सा और स्वास्थ्य राज्य मंत्री हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.