होम /न्यूज /राजस्थान /कल राजस्थान में प्रवेश करेगी राहुल की भारत जोड़ो यात्रा, क्या गहलोत-पायलट की लड़ाई का दिखेगा असर

कल राजस्थान में प्रवेश करेगी राहुल की भारत जोड़ो यात्रा, क्या गहलोत-पायलट की लड़ाई का दिखेगा असर

Jaipur News: भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान पहुंचने वाली है. सीएम अशोक गहलोत और पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट इसके लिए पूरी तरह तैयार हैं. (News18)

Jaipur News: भारत जोड़ो यात्रा राजस्थान पहुंचने वाली है. सीएम अशोक गहलोत और पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट इसके लिए पूरी तरह तैयार हैं. (News18)

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ा यात्रा 4 दिसंबर को राजस्थान में प्रवेश तो कर रही है, लेकिन उ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा के प्रवेश से पहले जन्मी आशंकाएं
'कौन बनेगा सीएम' विवाद की छाया पड़ सकती है इस यात्रा पर
कांग्रेस ने संगठन प्रभारी केसी वेणुगोपाल को भेजा जयपुर

जयपुर. राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 4 दिसंबर की शाम राजस्थान में प्रवेश करेगी और 20 दिसंबर को प्रस्थान करेगी. ये 15 दिन पूरी तरह तरह से कांग्रेस नेतृत्व की नींद उड़ा देगी. क्योंकि,  कांग्रेस नहीं चाहती कि राहुल गांधी के प्रयासों पर राजस्थान के विवाद ‘कौन बनेगा सीएम’ की छाया भी पड़े.

दरअसल, आशंका जताई जा रही है कि राजस्थान में भारत जोड़ो यात्रा का उत्साह टूट सकता है. यही कारण है कि संगठन प्रभारी केसी वेणुगोपाल को जयपुर भेजा गया. उन्होंने ‘सबकुछ ठीक है’ का संदेश देने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के साथ संयुक्त प्रेसवार्ता भी की. लेकिन, 24 घंटों के अंदर ही शहर में सीएम अशोक गहलोत के पोस्टर चिपका दिए गए. इनके जरिये संदेश दिया गया कि सीएम गहलोत ही राजस्थान के एकमात्र और असली नेता हैं.

सीएम गहलोत को बताया असली नेता
दूसरी ओर, पायलट गुट ने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय के कहने पर उनके नेता सचिन पायलट के पोस्टरों को अधिकारियों ने उतरवा दिया. बता दें, राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा झालावाड़ और दौसा से गुजरेगी. यह इलाके उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट का गढ़ माने जाते हैं. पार्टी सूत्रों के मुताबिक, यात्रा का यह मार्ग किसी इरादे से तय नहीं किया गया. यह सुविधा के हिसाब से तय किया गया. इसिलए गहलोत के समर्थक चाहते हैं कि यात्रा के दौरान उनकी उपस्थिति पायलट पर भारी पड़े.

सचिन पायलट के फोटो पर उठे सवाल
इस बीच एक ट्वीट में पायलट को जूतों की लेस बांधते दिखाया गया. इस पर कुछ लोगों ने कहा कि यह ठीक उस तरह है जैसे राहुल गांधी और प्रियंका गाधी ने यात्रा में किया. वह समर्थकों के साथ दौड़ते और लोगों से यात्रा में शामिल होने का पूछते. लोग पूछ रहे हैं कि पायलट राहुल की यात्रा पर कब्जा करना चाहते हैं या अपनी यात्रा में अपनी उपस्थिति दर्ज कराना चाहते हैं.

सचिन पायलट पर न फोड़ दें गड़बड़ी का ठीकरा
पायलट के करीबियों का कहना है कि सीएम अशोक गहलोत भारत जोड़ो यात्रा में अपने हिस्से का छोटा हिस्सा भी नहीं सौंपेंगे. दूसरी ओर, कुछ समर्थकों को यह भी आशंका है कि कुछ भी गड़बड़ी हुई तो नेता उसका ठीकरा सचिन पायलट पर फोड़ देंगे. इस पर गहलोत के समर्थकों का कहना है कि पायलट गुट एक और आधारहीन आरोप लगा रहा है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री होने के नाते अशोक गहलोत ही राहुल गांधी के बाद यात्रा का नेतृत्व करेंगे.

Tags: Bharat Jodo Yatra, Jaipur news, Rahul gandhi, Rajasthan news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें