Home /News /rajasthan /

अशोक गहलोत का पायलट कैंप पर तगड़ा वार, बोले- 'मैं जादूगर हूं, डंके की चोट पर...'

अशोक गहलोत का पायलट कैंप पर तगड़ा वार, बोले- 'मैं जादूगर हूं, डंके की चोट पर...'

शाहपुरा में संबोधन के दौरान सीएम अशोक गहलोत के तेवर काफी तीखे नजर आये. वे पहले से ज्यादा आत्मविश्वासी दिखे.

शाहपुरा में संबोधन के दौरान सीएम अशोक गहलोत के तेवर काफी तीखे नजर आये. वे पहले से ज्यादा आत्मविश्वासी दिखे.

Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot: दिल्ली दौरे के बाद सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) पहले के मुकाबले और ज्यादा कॉफिडेंट हो गये हैं. सीएम गहलोत ने एक बार फिर विरोधी धड़े सचिन पायलट (Sachin Pilot) कैम्प पर जोरदार हमला बोलते हुये कहा कि पार्टी के आलाकमान का उन्हें फ्री हैंड हैं. पार्टी से दगा करने वालों को उन्होंने अभी तक माफ नहीं किया है. सरकार डंके की चोट पर पूरे पांच साल चलेगी.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. मंत्रिमंडल विस्तार में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) अंसतुष्ट धड़े सचिन पायलट कैम्प (Sachin Pilot Camp) के किसी भी तरह के दबाव में नहीं आयेंगे. सीएम गहलोत ने शाहपुरा में दो टूक शब्दों में पिछले साल के राजनीतिक घटनाक्रम को याद करते हुये उसे अंजाम देने वाले पात्रों पर जमकर हमला बोला. इस दौरान गहलोत यहां तक कह गये कि उनकी सरकार डंके की चोट पर पूरे पांच साल चलेगी. गहलोत ने कहा मैं जादूगर हूं, इसलिए जादू किया और सरकार बचा ली. अशोक गहलोत के यह बयान कैबिनेट रिशफलिंग में उचित स्थान पाने के लिए छटपटा रहे असंतुष्ट विधायकों के लिए करारा झटका है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को पिछले साल के राजनीतिक घटनाक्रम की तस्वीर एक बार फिर ताजा कर दी. शाहपुरा के करीरी में सीएम अशोक गहलोत गये तो ‘प्रशासन गांवों के संग अभियान’ का जायजा लेने के लिये लेकिन वहां जमा भारी भीड़ देख उनसे रहा नहीं गया और उनके दिल की बात जुबां पर आ गई. उन्होंने एक एकके कर सारी कहानी सुनाई.

सरकार गिराने वालों के सपने चकनाचूर हो गये
मुख्यमंत्री गहलोत बोले आलोक बेनीवाल जैसे निर्दलीय विधायकों की वजह से मेरी सरकार बची. नहीं तो मेरा उसी दिन इस्तीफा हो जाता. निर्दलीय और बीएसपी विधायकों को मोटा लालच दिया गया जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते. लेकिन एक भी एमएलए मुझे छोड़ कर नहीं गया. सौ में से 19 विधायक जा चुके थे. सरकार पर खतरा मंडरा रहा था. लोकतंत्र में गिनती का खेल है. इसमें मैजिक नंबर होते हैं. मैं खुद जादूगर था. इसलिए काम चल गया और सरकार गिराने वालों के सपने चकनाचूर हो गये.

बीएसपी और निर्दलीय विधायकों को खूब गुमराह भी किया गया
मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि राजस्थान की विधानसभा में दो सौ विधायक हैं. बहुमत के लिए एक सौ एक की जरूरत होती है. 19 विधायक कम हुए तो सरकार अल्पमत में दिखाई देने लगी. मेरे पास गवर्नर साहब के पास जाकर इस्तीफा सौंपने के अलावा कोई चारा नहीं बचा था. बीएसपी और निर्दलीय विधायकों को खूब गुमराह भी किया गया. लेकिन वो टस से मस नहीं हुए.

बीजेपी पर भी बोला जोरदार हमला
उन्होंने बीजेपी पर हमला बोलते हुये कहा कि उसकी हर कोशिश नाकाम हो गई. गहलोत ने बीजेपी पर हमलावर होते हुये कहा कि वह कांग्रेस के विधायक तोड़ने के ख्वाब पालकर सरकार गिराने की साजिश रच रही थी लेकिन उसके ही विधायक टूटने लगे. उनकी ऐसी दुर्गति हुई कि एयरपोर्ट पर विधायकों को ले जाने के लिए बुलाये गये प्लेन खाली रह गये. बीजेपी विधायकों ने ही विरोध कर दिया कि वो नहीं जायेंगे. ऐसा देश में पहली बार हुआ.

कैबिनेट रिशफलिंग में सिर चढ़कर बोलेगा गहलोत का जादू
सीएम गहलोत के तीखे तेवरों से साफ है कि वो पायलट कैम्प की न तो परवाह करते हैं और न ही वो किसी दबाव में हैं. इसके साथ ही उन्होंने ये भी साफ कर दिया है कि पार्टी के आलाकमान का उन्हें फ्री हैंड हैं. पार्टी से दगा करने वालों को उन्होंने अभी तक माफ नहीं किया है. जाहिर है गहलोत का जादू कैबिनेट रिशफलिंग में सिर चढ़कर बोलेगा. शायद उन्होंने अब सरकार गिराने की साजिश रचने वालों से दो दो हाथ करने का फैसला कर ही लिया है.

Tags: Ashok gehlot news, Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot, Congress politics, Rajasthan latest news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर