राजस्थान फिर बना पॉलिटिकल टूरिज्म का अखाड़ा, असम के कांग्रेस प्रत्याशियों की बाड़ेबदी शुरू

एआईयूडीएफ के 10 और 07 कांग्रेस प्रत्याशियों को इंडिगो को चार्टर से गुहावाटी से जयपुर लाया गया. (फाइल फोटो)

एआईयूडीएफ के 10 और 07 कांग्रेस प्रत्याशियों को इंडिगो को चार्टर से गुहावाटी से जयपुर लाया गया. (फाइल फोटो)

आने वाले दो दिन में सभी प्रत्याशियों को जयपुर लाया जाएगा. सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी विधायकों का प्रबंध देख रहे हैं. फेयरमाउंट में ही पहले राजस्थान के कांग्रेस विधायकों की बाड़ेबदी की गई थी.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान एक बार फिर पॉलिटिकल टूरिज्म का अखाड़ा बन गया है. असम में चुनाव नतीजों से पहले ही कांग्रेस ने असम के गठबंधन के प्रत्याशियों की जयपुर में बाड़ेंबदी शुरू कर दी है. एआईयूडीएफ के 10 और 07 कांग्रेस प्रत्याशियों को इंडिगो को चार्टर से गुहावाटी से जयपुर लाया गया. जयपुर में होटल फेयरमाउंट ले जाया गया. आने वाले दो दिन में सभी प्रत्याशियों को जयपुर लाया जाएगा. सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी विधायकों का प्रबंध देख रहे हैं. फेयरमाउंट में ही पहले राजस्थान के कांग्रेस विधायकों की बाड़ेंबदी की गई थी.

असम में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत न मिलने की अटकलों के बाद जयपुर में महाजोत की बाड़ेबंदी की गई है. जयपुर के फेयरमाउंट होटल की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है. गठबंधन के सभी प्रत्याशियों को कल तक जयपुर लाया जा सकता है.

महेश जोशी ने कहा, "असम से लाए प्रत्याशी कब तक जयपुर में रहेंगे, ये जानकारी नही लेकिन सभी का ख्याल रखेंगे. अभी 20 आए हैं. जिस तरह के देश में राजनीतिक हालात हैं, उसे देखते हुए यह कदम उठाया है." बाडेबंदी में विधायकों के रहने का प्रबंध देख रहे कांग्रेस विधायक रफीक खान ने कहा जब तक रहेंगे जिम्मा संभालेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज