Assembly Banner 2021

Rajasthan Budget: बजट पर बहस में सीएम गहलोत ने फिर की बड़ी घोषणाओं की बौछार, पढ़ें कहां क्या बनेगा

सीएम गहलोत ने कहा कि आगामी वर्ष से उच्च शिक्षा में चरणबद्ध रूप से क्रेडिट बेस्ट प्रणाली लागू किया जाना प्रस्तावित है.

सीएम गहलोत ने कहा कि आगामी वर्ष से उच्च शिक्षा में चरणबद्ध रूप से क्रेडिट बेस्ट प्रणाली लागू किया जाना प्रस्तावित है.

Rajasthan Assembly Budget Session: बजट पर बहस के दौरान सवाला का जवाब देते हुए सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने एक बार फिर प्रदेश के विकास के लिये सरकार का खजाना खोल दिया.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने गुरुवार को फिर से प्रदेश के लिए घोषणाओं की बौछार की. बजट बहस पर विधानसभा (Assembly Budget Session) में जवाब के दौरान सीएम ने कई महत्वपूर्ण और बड़ी घोषणाएं कीं. गहलोत ने चिकित्सा और शिक्षा (Medical and Education) के साथ ही कृषि, राजस्व, गृह, पर्यटन और उद्योग जैसे विभागों के लिए महत्वपूर्ण घोषणाएं की हैं. बजट में छूटी घोषणाओं को सीएम ने अपने रिप्लाई में शामिल किया और 65 बिन्दुओं की घोषणाओं में हर विभाग और क्षेत्र को छूने का प्रयास किया.

इस दौरान सीएम अशोक गहलोत ने घोषणा की कि 784 ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर चरणबद्ध तरीके से उपस्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना की जाएगी. राजसमंद के नाथद्वारा में शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोला जाएगा. जयपुर के किशनपोल में सेटेलाइट अस्पताल बनाया जाएगा. भरतपुर के कुम्हेर में नर्सिंग कॉलेज की स्थापना की जाएगी. जोधपुर के महात्मा गांधी अस्पताल में ऑर्थो स्पाइन युनिट खोली जाएगी. इंग्लिश मीडियम के 200 राजकीय विद्यालयों में विज्ञान संकाय खोले जाना भी प्रस्तावित है. विभिन्न कॉलेजों के सुदृढ़ीकरण और भवन निर्माण के लिए आगामी वर्ष में 100 करोड़ रुपये दिए जाएंगे.

सीएम गहलोत की प्रमुख घोषणाएं
- आगामी वर्ष से उच्च शिक्षा में चरणबद्ध रूप से क्रेडिट बेस्‍ड प्रणाली लागू करना प्रस्तावित है.
- नागौर के डीडवाना में कन्या महाविद्यालय खोला जाएगा.


- भरतपुर के डीग और कुम्हेर में खेल स्टेडियम बनाए जाने प्रस्तावित हैं.
- किसान ई-मंडी की स्थापना की घोषणा भी की गई है.
- चार स्थानों पर कृषि महाविद्यालय की स्थापना की जाएगी.
- बामनवास और रैणी में कृषि उपज मंडी की स्थापना की जाएगी.
- बेघर उत्थान एवं पुनर्वास नीति- 2021 लाई जाएगी.
- 20 करोड़ रुपये राशि से वाल्मिकी कोष बनाया जाएगा.
- डूंगरपुर के सागवाड़ा में 5 करोड़ की लागत से वागड़ सांस्कृतिक केन्द्र का निर्माण होगा.
- तूंगा, जावाल और खेड़ली में औद्योगिक केन्द्र स्थापित किए जाएंगे.
- प्रत्येक नगरपालिका में एक, नगर परिषद् में 3, नगर निगम में 5 ओपन जिम स्थापित किए जाएंगे.
- 5 हजार डेयरी बूथों का आवंटन सुनिश्चित किया जाएगा.
- जयपुर के चारदीवारी क्षेत्र में सीवर लाइन और अन्य कार्यों पर 50 करोड़ खर्च होंगे.
- सांगोद में 2 करोड़ की लागत से रिवर फ्रंट विकसित होगा.
- सीकर के फतेहपुर में सिटी नेचर पार्क का निर्माण होगा.
- टोडाभीम में 15 करोड़ की लागत से बाईपास बनाया जाएगा.
- 329 करोड़ की लागत से हनुमानगढ़ में 400 केवी ग्रिड सब स्टेशन स्थापित किया जाएगा.
- राज्य प्रदूषण मंडल के 10 नए क्षेत्रीय कार्यालय खोले जाएंगे.
- वन सुरक्षा और विकास पर 2 वर्षों में 150 करोड़ रुपए खर्च होंगे.
- रामदेवरा के विकास और सौन्दर्यीकरण के लिए 2 करोड़ रुपए का प्रावधान.
- भरतपुर के सीकरी और उदयपुर के भीण्डर में उपखण्ड कार्यालय खोले जाएंगे.
- सीनियर जर्नलिस्ट्स की पेंशन 10 हजार प्रतिमाह से बढाकर 15 हजार किया जाना प्रस्तावित है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज