लाइव टीवी

विधानसभा उपचुनाव: मंडावा और खींवसर में BJP-RLP तथा कांग्रेस ने झौंकी पूरी ताकत

News18 Rajasthan
Updated: October 19, 2019, 7:18 PM IST
विधानसभा उपचुनाव: मंडावा और खींवसर में BJP-RLP तथा कांग्रेस ने झौंकी पूरी ताकत
कांग्रेस राज्य सरकार की उपलब्धियों को गिनाकर इन दोनों सीटों को झटकना चाहती हैं. वहीं बीजेपी और आरएलपी अपनी-अपनी सीटें बचाने में जुटी हुई हैं.

राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनूं की मंडावा (Mandawa) और नागौर की खींवसर (Kheevasar) विधानसभा सीट बीजेपी (BJP), कांग्रेस (Congress) और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के लिए प्रतिष्ठा (Reputation) का प्रश्न बनी हुई हैं. सोमवार को इन दोनों सीटों के लिए मतदान (Voting) होगा.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनूं की मंडावा (Mandawa) और नागौर की खींवसर (Kheevasar) विधानसभा सीट बीजेपी (BJP), कांग्रेस (Congress) और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के लिए प्रतिष्ठा (Reputation) का प्रश्न बनी हुई हैं. सोमवार को इन दोनों सीटों के लिए मतदान (Voting) होगा. शनिवार को चुनाव प्रचार के अंतिम तीनों पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत (Full strength) झौंक दी. दोनों क्षेत्रों में पार्टियों के दिग्गज नेताओं (Veteran Leaders) का जमावड़ा लगा रहा. सभाओं (Meetings) और रोड शो (Road show) के जरिए मतदाताओं (Voters) को लुभाने की पुरजोर कोशिश की गई.

सीटें बचाने और झटकने की कोशिश
प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होने के कारण उसने अपने 10 महीने के कामकाज को जनता के सामने रखकर जनता से वोट मांगे हैं. कांग्रेस राज्य सरकार की उपलब्धियों को गिनाकर इन दोनों सीटों को झटकना चाहती हैं. वहीं बीजेपी और आरएलपी अपनी-अपनी सीटें बचाने में जुटी हुई हैं. इनमें से मंडावा सीट पहले बीजेपी के पास तो खींवसर आरएलपी के पास थी.

मंडावा में दिग्गजों का लगा रहा जमावड़ा

चुनाव प्रचार के अंतिम दिन मंडावा सीट के लिए बीजेपी ने अपनी स्टार प्रचारक मथुरा से सांसद फिल्म स्टार ड्रीमगर्ल हेमामालिनी को चुनाव मैदान में उतारा. उनके साथ पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ जुटे रहे. वहीं कांग्रेस की ओर से राज्य सरकार के मंत्रियों मास्टर भंवरलाल मेघवाल और गोविंद सिंह डोटासरा ने मतदाताओं को रिझाने की कोशिश की. कांग्रेस की परंपरागत सीट रही मंडावा पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने झटक ली थी. अब कांग्रेस इसे वापस पाने के लिए जी-तोड़ कोशिश कर रही है. यहां मुकाबला बीजेपी की सुशीला सींगड़ा और कांग्रेस की रीटा चौधरी के बीच है.

खींवसर में दिनभर चला धुआंधार प्रचार
खींवसर में चुनाव प्रचार के अंतिम दिन आरएलपी-बीजेपी गठबंधन के प्रत्याशी नारायण बेनीवाल के समर्थन में पांचला और कुचेरा में दो बड़ी सभाएं हुईं. पांचला से लेकर कुचेरा तक रोड शो भी निकाला गया. इस दौरान नारायण बेनीवाल के समर्थन में उनके भाई नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल और केन्द्रीय राज्य मंत्री कैलाश चौधरी जुटे रहे. वहीं कांग्रेस प्रत्याशी हरेन्द्र मिर्धा के समर्थन राज्य सरकार के मंत्री भंवर सिंह भाटी, अशोक चांदना और मारवाड़ के दिग्गज राजपूत नेता मानवेन्द्र सिंह ने मतदाताओं से संपर्क साधा और अपने प्रत्याशी के लिए वोट मांगे. खींवसर सीट गत तीन चुनावों से आरएलपी के कब्जे में है.
Loading...

विधानसभा उपचुनाव: मंडावा और खींवसर में प्रचार का शोर थमा, सोमवार को होगा मतदान

EWS को सीएम गहलोत का तोहफा, आरक्षण में भूमि-भवन संबंधी प्रावधान होगा खत्म

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 19, 2019, 7:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...