कांग्रेस में टिकटों की माथापच्ची, वरिष्ठ नेताओं का विकल्प नहीं खोज पा रही है स्क्रीनिंग कमेटी

विधानसभा चुनावों में युवा और महिला प्रत्याशियों की भागीदारी बढ़ाने के लिए दिल्ली में मंथन में जुटी कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी वरिष्ठ नेताओं का तोड़ नहीं निकाल पा रही है.

News18 Rajasthan
Updated: November 9, 2018, 9:30 PM IST
कांग्रेस में टिकटों की माथापच्ची, वरिष्ठ नेताओं का विकल्प नहीं खोज पा रही है स्क्रीनिंग कमेटी
फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: November 9, 2018, 9:30 PM IST
विधानसभा चुनावों में युवा और महिला प्रत्याशियों की भागीदारी बढ़ाने के लिए दिल्ली में मंथन में जुटी कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी वरिष्ठ नेताओं का तोड़ नहीं निकाल पा रही है. कांग्रेस वॉररूम 15 जीआरजी में हो रही है बैठक में कमेटी का जोर साफ छवि, युवा और महिला उम्मीदवारों पर है. प्रत्येक सीट से जीताऊ, युवा और महिला तीन नामों का पैनल बनाया जाएगा.

प्रत्याशी चयन के लिए शुक्रवार को कांग्रेस में फिर शुरू हुए बैठकों के दौर में युवाओं और महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए उम्रदराज दावेदारों के ऑप्शन और उसके बाद के समीकरणों पर गहरा मंथन किया गया. लेकिन कमेटी सीनियर नेताओं का कोई तोड़ नहीं निकाल पाई. शुक्रवार को जयपुर संभाग की सीटों को लेकर विचार विमर्श किया गया. इस दौरान कमेटी ने चारों सचिवों को बुलाकर उनसे भी अलग-अलग फीडबैक लिया.

भी पढ़ें- OPINION: राजस्थान में BJP के लिए गले की फांस बने मौजूदा विधायक!

यहां पढ़ें- राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 से जुड़ी अन्य खबरें

दोवदार जमे हैं दिल्ली में
बैठक में स्क्रीनिंग कमेटी चैयरमैन कुमारी शैलजा, पीसीसी चीफ सचिन पायलट, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी समेत प्रत्याशी चयन प्रक्रिया से जुड़े सभी वरिष्ठ नेता मौजूद हैं. शुक्रवार को नोटबंदी के विरोध प्रदर्शन के कारण बैठक देरी से शुरू हो पाई. स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक को देखते हुए टिकटों के दावेदार दिल्ली में ही डेरा डाले हुए हैं और टिकट पाने की हरसंभव जुगत भिड़ा रहे हैं.

(रिपोर्ट : अभिषेक आढ़ा)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर