बीजेपी में टिकट से पहले शुरू हुआ घमासान, ब्यावर-थानागाजी सीट को लेकर प्रदर्शन

बीजेपी मुख्यालय पर शुक्रवार को अजमेर के ब्यावर से वर्तमान विधायक को टिकट नहीं देने और अलवर के थानागाजी से स्थानीय को टिकट देने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया गया.

Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: November 9, 2018, 7:56 PM IST
बीजेपी में टिकट से पहले शुरू हुआ घमासान, ब्यावर-थानागाजी सीट को लेकर प्रदर्शन
कार्यकर्ताओं को समझाते केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत।
Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: November 9, 2018, 7:56 PM IST
दिवाली के दो दिन के अवकाश के बाद अब प्रदेश में विधानसभा चुनावों की सियासत भी तेज हो गई है. एक ओर बीजेपी कोर ग्रुप टिकिटों को अंतिम रूप देने में जुटा है तो दूसरी और वर्तमान विधायकों का विरोध और स्थानीय को टिकट देने की मांग भी पार्टी में तेजी से उठ रही है. शुक्रवार को अजमेर के ब्यावर से वर्तमान विधायक को टिकट नहीं देने और अलवर के थानागाजी से स्थानीय को टिकट देने की मांग को लेकर बीजेपी मुख्यालय पर प्रदर्शन किया गया.

बीजेपी मुख्यालय पर पहले तो ब्यावर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं ने वर्तमान विधायक शंकर सिंह रावत को टिकिट नहीं देने के लिए प्रदर्शन किया. वहीं थानागाजी से हेमसिंह भड़ाना को टिकट नहीं देने और स्थानीय को टिकट देने की मांग को लेकर कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किय़ा. ऐसा नही है कि यह पहली बार हुआ है. हाल ही में आमेर में एक होटल में टिकिटों को लेकर चल रहे मंथन के दौरान भी आमेर से स्थानीय को टिकट देने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया गया था. वहीं बगरू से वर्तमान विधायक कैलाश वर्मा को हटाने की भी मांग हो चुकी है.

यहां पढ़ें- राजस्थान विधानसभा चुनाव की ताजा अपडेट LIVE 

पार्टी को इस तरह से चौराहे पर मत खड़ा करो

कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के दौरान भाजपा चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक गजेन्द्र सिंह शेखावत ने ब्यावर से आए कार्यकर्ताओं से कहा कि पार्टी को इस तरह से चौराहे पर मत खड़ा करो. इस दौरान पार्टी के आला नेताओं ने एक स्वर में कहा कि कार्यकर्ताओं को टिकट मांगने का अधिकार है और विरोध प्रदर्शन करना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है. लेकिन पार्टी जो तय करेगी कमल को प्रत्याशी मानते हुए कार्यकर्ता काम करेंगे.

यहां पढ़ें- राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 से जुड़ी अन्य खबरें
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर