जयपुर में कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी का काम हुआ पूरा, अब टिकटों की दौड़ होगी दिल्ली में

कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी ने राजस्थान में चुनाव समिति से फीडबैक लेने का काम पूरा कर लिया है. स्क्रीनिंग कमेटी अब टिकट के मसले पर चर्चा के लिए जयपुर में कोई बैठक नहीं करेगी.

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 2:30 PM IST
जयपुर में कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी का काम हुआ पूरा, अब टिकटों की दौड़ होगी दिल्ली में
होटल में उमड़ी कांग्रेस के टिकटार्थियों की भीड़। फोटो: न्यूज18 राजस्थान ।
Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 2:30 PM IST
कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी ने राजस्थान में चुनाव समिति से फीडबैक लेने का काम पूरा कर लिया है. स्क्रीनिंग कमेटी अब टिकट के मसले पर चर्चा के लिए जयपुर में कोई बैठक नहीं करेगी. अब कांग्रेस की टिकटों की दौड़ पूरी तरह दिल्ली शिफ्ट हो चुकी है. फीडबैक के बाद कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की अध्यक्ष ने कई मौजूदा विधायकों के टिकट कटने के भी संकेत दिए.

स्क्रीनिंग कमेटी अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने शनिवार को दिनभर होटल क्लार्कस आमेर में चुनाव समिति के 16 सदस्यों से एक एक कर फीडबैक लिया. ज्यादातर नेताओं से उनके जिले के दावेदारों के बारे में चर्चा की गई. चुनाव समिति में शामिल अधिकांश नेता या तो खुद के लिए या अपने बेटे बेटियों के लिए टिकट मांग रहे हैं. कुमारी शैलजा ने कहा कि टिकट वितरण का सबसे बड़ा मापदंड जिताऊ उम्मीदवार ही होगा. इसके अलावा युवाओं और महिलाओं को भी उनकी जीतने की योग्यता के हिसाब से टिकट दिए जाएंगे. शैलजा ने टिकट वितरण में सोशल इंजीनियरिंग और हर तरह का संतुलन बनाने की बात भी कही.

ये भी पढ़ें- राजस्थान की राजनीति में एक और 'महारानी', पढ़ें- कौन हैं रासेश्वरी राज्यलक्ष्मी?

दावेदारों से नहीं मिली शैलजा

फीडबैक के दौरान भी दिनभर होटल के अंदर और बाहर कांग्रेस के टिकटार्थियों का हुजूम उमड़ता रहा, लेकिन कुमारी शैलजा ने दावेदारों से मिलने से साफ इनकार कर दिया. इसके बावजूद होटल में दिनभर टिकटार्थी टिके रहे.

ये भी पढ़ें - कांग्रेस में जिताऊ उम्मीदवार को ही मिलेगा टिकट, हाईकमान तय करेंगे उम्मीदवार
Loading...
राजस्थान में cVIGIL एप लॉन्च, जनता यहां कर सकती है नेताओं की शिकायत

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर