उदयपुर संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा का नहीं होगा तबादला, बने रहेंगे पद पर

उदयपुर के संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा का तबादला नहीं किया जाएगा. देथा को लेकर कांग्रेस की ओर से की गई शिकायत के बाद राज्य के निर्वाचन विभाग ने स्पष्ट कर दिया है कि चुनाव आयोग के आदेश अनुसार कोई भी अधिकारी अपने पद पर तीन वर्ष तक रह सकता है.

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 1:59 PM IST
उदयपुर संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा का नहीं होगा तबादला, बने रहेंगे पद पर
सचिवालय।
Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: October 13, 2018, 1:59 PM IST
उदयपुर के संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा का तबादला नहीं किया जाएगा. देथा को लेकर कांग्रेस की ओर से की गई शिकायत के बाद राज्य के निर्वाचन विभाग ने स्पष्ट कर दिया है कि चुनाव आयोग के आदेश अनुसार कोई भी अधिकारी अपने पद पर तीन वर्ष तक रह सकता है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने बताया कि कांग्रेस ने अपनी शिकायत में कोई पुख्ता जानकारी नहीं दी है। शिकायत में यह नहीं बताया कि भवानी सिंह देथा को क्यों हटाना चाहते हैं और उन पर क्या आरोप है ? दरअसल कांग्रेसी नेता सुशील शर्मा के नेतृत्व में पार्टी का एक डेलिगेशन शुक्रवार को सचिवालय में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार मिला. इस डेलिगेशन ने उदयपुर के संभागीय आयुक्त भवानी सिंह देथा को उनके पद से हटाने की मांग की. कांग्रेसी नेता सुशील शर्मा ने मीडिया में संभागीय आयुक्त पर भाजपा के एजेंट के रूप में काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि देथा कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को डरा और धमका रहे हैं.

कोई भी अधिकारी अपने पद पर तीन वर्ष तक रह सकता है
शर्मा का कहना था कि भवानी सिंह देथा तीन वर्ष से एक ही पद पर जमे हुए हैं, जबकि चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार दो वर्ष तक एक ही जिले में तैनात अधिकारियों का तबादला करना अनिवार्य है. इसके बाद निर्वाचन विभाग ने स्पष्ट कर दिया है कि चुनाव आयोग के आदेश अनुसार कोई भी अधिकारी अपने पद पर तीन वर्ष तक रह सकता है. लिहाजा देथा उदयपुर संभागीय आयुक्त पद पर बने रहेंगे.

यह भी पढ़ें:  उदयपुर में भीषण सड़क हादसा, पांच शिक्षिकाओं और तीन स्कूली बच्चों की मौत
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर