राजस्थान: सांसद रंजीता कोली पर हमले से भड़की बीजेपी, कहा- सरकार अपराधियों के आगे नतमस्तक

सांसद पर हमले के मामले में बीजेपी ने कहा कि राज्य सरकार आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाएं ताकि आमजन का सरकार और पुलिस पर से उठ चुका विश्वास वापस कायम हो सके.

सांसद पर हमले के मामले में बीजेपी ने कहा कि राज्य सरकार आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाएं ताकि आमजन का सरकार और पुलिस पर से उठ चुका विश्वास वापस कायम हो सके.

Attack on Bharatpur MP Ranjita Koli: भरतपुर सांसद रंजीता कोली पर हुये हमले के बाद बीजेपी अब कांग्रेस पर हमलावर हो गई है. बीजेपी (BJP) ने इस मसले पर गहलोत सरकार को घेरते हुये कहा कि प्रदेश में जब सांसद की सुरक्षित नहीं हो तो आम आदमी की तो बिसात ही क्या है ?

  • Share this:

जयपुर. भरतपुर सांसद रंजीता कोली (Ranjita Koli )पर हुये हमले  के बाद बीजेपी (BJP) ने घटना को लेकर खासा आक्रोश जताया है. पूर्व सीएम वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje), बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया (Satish punia) और जयपुर ग्रामीण सांसद एवं बीजेपी के प्रवक्ता राज्यवर्धन राठौड़ (Rajyavardhan Rathore) ने गहलोत सरकार पर जमकर हमला बोला है. वहीं बीजेपी अन्य नेताओं ने भी भरतपुर सांसद पर हुये हमले को लेकर गहलोत सरकार को घेरा है.

पूर्व सीएम वसुन्धरा राजे ने कहा कि कांग्रेस सरकार की बदहाल कानून-व्यवस्था का इससे बड़ा सबूत और क्या हो सकता है कि प्रदेश में सांसद तक सुरक्षित नहीं है. अनुमान लगा लीजिये फिर आम आदमी का क्या हाल होगा ? राज्य सरकार प्रदेश में महिला सुरक्षा के दावे कर भले ही अपनी पीठ खुद ही थपथपायें, लेकिन सच्चाई तो यही है कि यहां राजनीतिक संरक्षण में अराजकता ने पांव पसार लिए हैं. राजे ने कहा कि अपराधियों के आगे सरकार नतमस्तक है. सांसद पर हमले के मामले में राज्य सरकार आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवाएं ताकि आमजन का सरकार और पुलिस पर से उठ चुका विश्वास वापस कायम हो सके.

पूनिया बोले सांसद अवसाद में हैं

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने हमले पर गहरी चिंता जताते हुये कहा कि अभी तक हमलावर पुलिस की पकड़ से दूर हैं. सवाल ये खड़ा होता है कि पिछले कई दिनों से रंजीता कोली दौरे कर रहीं हैं. इस दौरान उन्होंने जिले की सीएचसी की अव्यवस्थाओं को उजागर किया. राज्य सरकार की टेस्टिंग बंद होने के मुद्दे को उजागर किया और कल भी वे सीएचसी के औचक निरीक्षण के लिये जा रही थीं. वापसी में बदमाशों ने पत्थरों और सरिये से हमला किया. वो अवसाद में हैं.

Youtube Video

राजस्थान बना अपराधों की राजधानी

पूनिया ने कहा कि राजस्थान शांतिपूर्ण प्रदेश था. अब यह अपराधों की राजधानी हो गया है. पिछले दिनों एम्बुलेंसकर्मियों ने जयपुर में गर्भवती महिला के साथ गैंगरेप किया. फिर भीलवाड़ा में महिला तहसीलदार के साथ अमर्यादित भाषा का उपयोग हुआ. उसके बाद अब भरतपुर जिले की कल रात की घटना भी दुर्भाग्यपूर्ण है.



पूनिया ने लिखी सीएम गहलोत को चिट्ठी

पूनिया ने सीएम गहलोत को चिट्ठी लिखी है. उसमें उन्होंने कहा है कि आप खुद गृहमंत्री भी हैं. दोषियों की गिरफ्तारी तत्काल हो नहीं तो प्रदेश की जनता का गुस्सा कोरोना से भी ज्यादा सड़कों पर फूटेगा. वहीं बीजेपी प्रवक्ता एवं जयपुर ग्रामीण सांसद राज्यवर्धन राठौड़ ने गहलोत सरकार पर हमला बोलते हुये कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा प्रदेश में अब सासंद भी सुरक्षित नहीं हैं.

बीजेपी का आरोप इसलिये हुआ हमला

उल्लेखनीय है कि सांसद रंजीता कोली ने देर रात खुद हमले का विडियो ट्वीट कर घटना की जानकारी दी. हालांकि हमले में सांसद को चोट नहीं आई लेकिन उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस काफी देर से पहुंची. दरअसल एक दिन पहले ही रंजीता कोली भरतपुर के नदबई में एक अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंची थी. तब एक मरीज ने शिकायत करते हुये उनको बताया कि अस्पताल उसकी कोरोना जांच नहीं कर रहा है. रंजीता कोली ने जब डॉक्टर से पूछा कि जांच क्यों नहीं कर रहे तो उसने जबाब दिया कि सरकार ने कोविड जांच कम करने को कह रखा है. हालांकि राज्य सरकार ने डाक्टर को हटा दिया. लेकिन बीजेपी अब आरोप लगा रही है रंजीता कोली ने सरकार के कोविड जांच के झूठ का पर्दाफाश किया इसलिए हमला हुआ.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज