Rajasthan: कच्छावा वंश की कुलदेवी जमवाय माता के मंदिर की मिट्टी भी लगेगी राम मंदिर की नींव में

कच्छावा वंश को भगवान श्रीराम का वंशज माना जाता है. जयपुर के पूर्व राजघराने से जुड़ी सदस्य राजसमंद सांसद दीया कुमारी भी खुद को राम का वंशज बता चुकी हैं.
कच्छावा वंश को भगवान श्रीराम का वंशज माना जाता है. जयपुर के पूर्व राजघराने से जुड़ी सदस्य राजसमंद सांसद दीया कुमारी भी खुद को राम का वंशज बता चुकी हैं.

अयोध्या में बनाए जाने वाले भव्य राम मन्दिर के भूमि पूजन में देशभर के विभिन्न धार्मिक स्थानों से लाई गई मिट्टी मंदिर की नींव में रखी जाएगी. इसमें कच्छावा वंश की कुल देवी जमवाय माता के मंदिर की पवित्र मिट्टी भी शामिल होगी.

  • Share this:
जयपुर. अयोध्या में बनाए जाने वाले भव्य राम मन्दिर (Ram temple) के भूमि पूजन में देशभर के विभिन्न धार्मिक स्थानों से लाई गई मिट्टी मंदिर की नींव में रखी जाएगी. इसमें कच्छावा वंश की कुल देवी जमवाय माता (Jamwai Mata)  के मंदिर की पवित्र मिट्टी भी शामिल होगी. मंदिर की पवित्र मिट्टी को लेकर विश्व हिन्दू परिषद् से जुड़े और अन्य धर्मावलम्बी लोग अयोध्या रवाना हो चुके हैं.

सांसद दीया कुमारी भी खुद को राम का वंशज बता चुकी हैं
कच्छावा वंश को भगवान श्रीराम का वंशज माना जाता है. जयपुर के पूर्व राजघराने से जुड़ी सदस्य राजसमंद सांसद दीया कुमारी भी खुद को राम का वंशज बता चुकी हैं. कच्छावा वंश की कुलदेवी जमवाय माता का मन्दिर जयपुर के जमवारामगढ़ में है. यहां की पवित्र मिट्टी को भव्य राम मंदिर के भूमि-पूजन के दौरान नींव में रखा जायेगा. विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय सह-मंत्री नरपत सिंह शेखावत को जमवाय माता मंदिर की मिट्टी सुपुर्द की गई है. राजपूत समाज से जुड़े भवानी सिंह चावण्डेड़ा, बीजेपी नेता रूपेन्द्र सिंह करीरी और बीजेपी के प्रदेश मंत्री श्रवण सिंह बगड़ी समेत अन्य लोगों ने ये मिट्टी उनको सुपुर्द की.

Rajasthan: 93 वर्षीय शेखावत ने रामजन्म भूमि आंदोलन को घर-घर पहुंचाया, लेकिन शिलान्यास नहीं देख पाये
वंशावली वृक्ष भी पेश किये थे


दावा किया जाता है कि कच्छावा वंश के जयपुर के पूर्व राजघराने के सदस्य भवानी सिंह भगवान राम की 315 वीं पीढ़ी में थे. भवानी सिंह की बेटी और राजसमंद से बीजेपी सांसद दीया कुमारी भी कुछ वक़्त पहले दावा कर चुकी है कि उनका परिवार भगवान राम का वंशज है. कोर्ट में मन्दिर को लेकर चल रही सुनवाई के दौरान भी दीया कुमारी खुलकर सामने आई थी और वंशावली वृक्ष भी पेश किये थे.

Rajasthan weather update: सावन के अंतिम सोमवार को जयपुर में झमाझम बारिश, 5 अगस्त से फिर सक्रिय हो सकता है मानसून

200 जगह की मिट्टी और जल पहुंचेगा अयोध्या
राजस्थान से करीब 200 पवित्र जगहों से मिट्टी और जल 5 अगस्त तक अयोध्या पहुंचेगा. इन 200 जगह में मंदिर और दूसरे पवित्र स्थल शामिल हैं. खास तौर पर जयपुर के गोविंददेव जी मंदिर, खाटू श्याम मंदिर, सालासर मंदिर और हल्दीघाटी की पवित्र मिट्टी अयोध्या पहुंचेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज