Jaipur: ग्रुप एडमिन की जमानत खारिज, हाईकोर्ट ने कहा- लड़कियों का जीना मुश्किल करने वालों के लिए जेल बेहतर जगह

 पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन ताडा ने बताया कि चितबड़ागांव थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 16 वर्षीय दलित लड़की का एक जुलाई 2018 को अपहरण कर बलात्कार किया गया. (सांकेतिक फोटो)

पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन ताडा ने बताया कि चितबड़ागांव थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली 16 वर्षीय दलित लड़की का एक जुलाई 2018 को अपहरण कर बलात्कार किया गया. (सांकेतिक फोटो)

High court's tough attitude: सोशल मीडिया में एक नाबालिग लड़की की फोटो और वीडियो वायरल करने के मामले में हाई कोर्ट ने ग्रुप एडमिन की याचिका खारिज कर दी है. कोर्ट ने आरोपी के खिलाफ तल्ख मौखिक टिप्पणी की है.

  • Share this:
जयपुर. सोशल मीडिया (Social Media) पर ग्रुप बनाकर नाबालिग लड़की (Minor girl) के फोटो और वीडियो वायरल करने वाले ग्रुप एडमिन की जमानत याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी है. इस मौके पर कोर्ट ने अपनी तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा कि ऐसे लोगों ने ही लड़कियों का जीना मुश्किल कर रखा है. ऐसे आरोपियों की जगह समाज में ना होकर जेल (Jail) में ही होनी चाहिए.

बता दें कि आरोपी को पुलिस ने 25 दिसम्बर 2020 को गिरफ्तार किया था. मामले में पुलिस ने चालान पेश कर दिया था. उसके बाद मंगलवार को जमानत याचिका पेश की गई थी. आरोपी के वकील का कहना था कि मामले में चालान पेश हो चुका है. ऐसे में कोई अनुसंधान शेष नहीं है.

कोर्ट ने की तल्ख टिप्पणी

आरोपी के वकील ने तर्क दिया कि जब फोटो खींचे गए थे तब वह नाबालिग था. उसकी कम उम्र देखते हुए जमानत का लाभ दिया जाना चाहिए. वहीं जिन धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। उनमें भी केवल 3 साल की सजा का प्रावधान है. इस पर कोर्ट ने मौखिक टिप्पणी करते हुए कहा कि “ऐसे लोगों ने लड़कियों का जीना मुश्किल कर रखा है. इनके लिए समाज में कोई जगह नहीं है. ऐसे लोगों के लिए जेल ही बेहतर है.”
यह था पूरा मामला

राजकीय अधिवक्ता शेर सिंह महला ने बताया कि पीड़िता के भाई ने टोंक जिले के दतवास थाने में मामला दर्ज करवाया था. उसने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि आरोपी ने उसकी नाबालिग बहन के फोटो व वीडियो सोशल मीडिया पर ग्रुप बनाकर वायरल कर दिए. वहीं उसकी बहन के नाम से फेसबुक पर फर्जी आईडी भी बना ली. इसकी रिपोर्ट 18 दिसम्बर 2020 को दर्ज करवाई गई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज