मर्डर का LIVE फुटेज, हंगामे के बाद भी नहीं चेती सरकार

प्रदेश में अवैध बजरी खनन जारी है और प्रशासन की नाक के नीचे बजरी माफिया की गुंडागर्दी भी जारी है.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 2:55 PM IST
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 2:55 PM IST
राजधानी जयपुर में बजरी माफिया ने एक बुजुर्ग को ट्रक से कुचलकर मार डाला. इसका लाइव सीसीटीवी फुटेज सामने आने और विधानसभा के बजट सत्र में इस मुद्दे पर जमकर हंगामे पर भी सरकार चेती नहीं है. प्रदेश में अवैध बजरी खनन जारी है और प्रशासन की नाक के नीचे बजरी माफिया की गुंडागर्दी भी जारी है.

दो दिन पहले अवैध बजरी खनन पर उपनेता राजेन्द्र राठौड़ ने सरकार पर बजरी माफिया के साथ गठजोड़ तक के आरोप लगाए थे. अवैध बजरी खनन पर राठौड़ के आरोपों के बाद सदन में हंगामा भी हुआ लेकिन सरकार की ओर से बजरी के अवैध खनन पर कोई जबाव नहीं दिया गया. इस पर विपक्ष ने वॉकआउट कर दिया था. इसके बाद भी हंगाम जारी रहा तो सदन को आधे घंटे तक स्थगित करना पड़ा था.

बजरी माफिया और सरकार में गठजोड़

राजेन्द्र राठौड़ ने विधानसभा में सरकार पर बजरी माफिया के साथ गठजोड़ का अरोप भी लगाया था. उन्होंने कहा कि अवैध बजरी खनन की रोकथाम की बात कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में भी किया था लेकिन जनता से किया वादा पूरा नहीं किया. 14 मई को डीजीपी कहते हैं कि बजरी माफिया आतंक का पर्याय बन गया है, इसे सरकारी तंत्र पनपाता है.

1000 से ज्यादा अपराधी लिप्त

विधानसभा ने राठौड़ ने ये भी कहा कि 1 हजार से ज्यादा अपराधी बजरी खनन में लगे हुए हैं. इस गठबंधन के सामने सरकार के लोग नतमस्तक हो गए हैं. एसपी धौलपुर पर तो बजरी माफिया हमला कर चुका है. उन्होंने जयपुर में बजरी माफिया को रोकने वाले किशोर सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि किशोर ने बजरी माफिया के ट्रकों को रोकने की कोशिश की तो माफिया ने उसे चेतावनी दी फिर उसे कुचल कर मार डाला गया.

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी से मुलाकात से पहले गहलोत ने ली ये बड़ी जिम्मेदारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 1, 2019, 4:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...